मेरठ और आसपास के जिलों में खतरनाक हो रहा कोरोना संक्रमण, पिछले 24 घंटे में आए 367 नए मरीज, तीन की मौत

204
corona cases update
corona cases update

मेरठ और आसपास के जिलों में कोरोनो ने खतरनाक तरीके से रफ्तार पकड़ ली है। विवाह आयोजनों के चलते भी भारी भीड़ देखी जा रही है। गुरुवार को कोरोना संक्रमण के 367 नए मामले सामने आए। मेरठ में प्रशासन कोरोना नियंत्रण का प्रयास कर रहा है, लेकिन हालात सुधरते नजर नहीं आ रहे हैं। गुरुवार को 5951 सैंपलों की जांच की गई, जिसमें 188 में वायरस की पुष्टि की गई। तीन की मौत हुई है। मेडिकल कैंपस में ब्वायज हास्टल में भी संक्रमण पहुंचा है। 1750 सैंपलों की रिपोर्ट प्रतीक्षारत है। 129 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया। करीब दो हजार मरीज सक्रिय केस के रूप में प्रशासन के लिए चुनौती बने हुए हैं। 1106 मरीज होम आइसोलेशन में रखे गए हैं, जहां उनकी नियमित निगरानी की जा रही है।

बागपत जिले का स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है, कारण है कि दिल्‍ली में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। बागपत में नमूनों की संख्या बढ़ा दी गई है। अब आंकड़ा दो हजार के पार हो रहा है। वहीं की रिपोर्ट जो आ रही है, उसमें पॉजिटिवों की संख्या घटी है। प्रभारी सीएमओ डा. भुजवीर सिंह ने बताया कि गुरुवार को कोरोना से छह लोग पॉजिटिव मिले है। वहीं सात लोग कोरोना से ठीक होकर अस्पताल से डिस्चार्ज हुए है। उन्होंने बताया कि जिले में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए संदिग्ध लोगों के नमूने लेने की संख्या बढ़ा दी गई है। पहले कभी 15 सौ तो कभी 13 सौ लोगों के नमूने भेजे जा रहे थे।

बिजनौर जिले में गुरुवार को 14 और नए संक्रमित मिले है, जबकि 196 एक्टिव केस है। इन सभी पीड़ितों के संपर्क में आए लोगों को चिन्हित करने का काम स्‍थानीय प्रशासन ने शुरू कर दिया। जिले में अभी 1966 लोगों की रिपोर्ट आनी शेष है। जिले में दिन-प्रतिदिन कोरोना केस मिलने की वजह से चेन टूटने का नाम नहीं ले रहा है। प्रतिदिन कोरोना संक्रमित मिलने की वजह से स्वास्थ्य विभाग के अफसरों के हाथ-पांव फूले हुए हैं। यहां संक्रमितों की संख्या 3983 हो गई, जबकि 58 व्यक्तियों की मौत हो चुकी है। वहीं 3729 मरीज ठीक होकर अपने घर वापस लौट आए हैं, जबकि 196 केस एक्टिव केस हैं।

बुलंदशहर जिले में तमाम कोशिशों के बावजूद भी संक्रमितों की संख्या थम नहीं रही है। अब पिछले 24 घंटे में 17 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। वहीं एक की मौत हो गई। साथ ही 22 ने कोरोना से जंग जीत ली है। इस तरह जनपद में कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 5251, ठीक होने वाले मरीज 4847 हो गई है। 83 की मौत हो चुकी है। 321 मरीज उपचाराधीन हैं। गुरुवार को स्वास्थ्य विभाग की जारी रिपोर्ट के अनुसार खुर्जा निवासी 67 वर्षीय बुजुर्ग की मेरठ मेडिकल मौत हो गई है। इसके अलावा बुलंदशहर के साठा और कैलाशपुरी में एक-एक संक्रमित की पुष्टि हुई है।

मुजफ्फरनगर जिले में गुरुवार को कोरोना बम फूटा है। यहां एक ही दिन में 69 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई। जबकि 25 मरीज उपचार के बाद स्वस्थ्य होकर घरों को लौट गए। स्वास्थ्य विभाग लोगों को कोरोना वायरस संक्रमण के प्रति जागरूक कर रहा है। लोगों को बताया जा रहा है कि संक्रमण के इस दौर में शारीरिक दूरी बनाकर तथा चेहरों पर मास्क लगाकर ही बचा जा सकता है। सीएमओ डा. प्रवीण कुमार चोपड़ा ने इंटरनेट मीडिया पर अपना संदेश प्रसारित कर लोगों से कोरोना से बचने तथा सावधानी बरतने की अपील की है। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन जनपद से काफी लोग दिल्ली तथा आसपास के इलाकों में जाते हैं, जिसके चलते संक्रमण हो सकता है।

सहारनपुर जिले में गुरुवार को कोरोना के 28 नये मरीज मिले हैं, जबकि 21 मरीजों को ठीक होने के बाद छुट्टी दे दी गई है। जनपद में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 8669 पहुंच गया है, जबकि ठीक होकर अपने परिवार में लौटने वाली संख्या 7170 हो गई है, कुल सक्रिय केस 1377 हो गए हैं। जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने बताया कि बुधवार को कोरोना के 28 नये मरीज सामने आए हैं जबकि स्वस्थ्य होने के बाद 21 मरीजों को उनके घर भेज दिया गया है। जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद में कुल कोरोना मरीजों की संख्या 8669 हो गई है, जबकि ठीक होकर अपने घर जाने वालों की संख्या 7170 हो गई है। जनपद में कोरोना से अब तक  122 मौतें हुई हैं अब जनपद में कोरोना के कुल सक्रिय मामले 1377 हो गए हैं। जिला प्रशासन सभी एहतियात के कदम उठा रहा है।शामली में 45 लोगों में संक्रमण