महाराष्ट्र : लाउडस्पीकर विवाद पर आज DGP, कमिश्नर और IG रेंज की बैठक, गृहमंत्री ने नियम और कड़े करने के दिए थे निर्देश

340
loudspeaker controversy

लाउडस्पीकर विवाद मामले पर आज महाराष्ट्र DGP और महाराष्ट्र के तमाम कमिश्नर, IG रेंज की बैठक होने वाली है. ये बैठक VC यानी वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से होने वाली है. सोमवार को महाराष्ट्र के गृहमंत्री दिलीप वालसे पाटिल ने स्पीकर को लेकर नियम और कड़े करने को लेकर महाराष्ट्र DGP को निर्देश दिए थे. जिसके बाद आज महाराष्ट्र के तमाम कमिश्नर (मुंबई, नवी मुंबई, ठाणे, नाशिक, नागपुर, पुणे, मीरा भायंदर, अमरावती, औरंगाबाद, सोलापुर, रेलवे मुंबई, पिंपरी चिंचवड़) और IG (कोंकण रेंज, औरंगाबाद रेंज, अमरावती रेंज, कोल्हापुर, नागपुर रेंज, नांदेड़ रेंज, नाशिक रेंज, गढ़चिरौली रेंज) और महाराष्ट्र के ADG लॉ एंड ऑर्डर के साथ महाराष्ट्र के DGP वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बैठक करने वाले हैं.

लाउडस्पीकर विवाद पर महाराष्ट्र पुलिस अधिकारियों की बैठक

उधर, लाउडस्पीकर विवाद मामले में अब भीम आर्मी भी मैदान में उतर आई है. भीम आर्मी के राष्ट्रीय सचिव और गुजरात प्रभारी अशोक कांबले ने महाराष्ट्र डीजी रजनीश सेठ को पत्र लिखकर राज ठाकरे के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. इसके साथ ही कांबले ने एक पत्र चुनाव आयोग को भी लिखा है और उनसे MNS पार्टी की मान्यता रद्द करने की मांग की. वहीं DG से IPC सेक्शन 298 के तहत राज ठाकरे पर FIR दर्ज करने की मांग की है और रमजान तक राज ठाकरे के भाषण पर रोक लगाने की मांग की. दो समुदाय धर्म विशेष में तनाव पैदा कर राज ठाकरे राजनीतिक तौर पर उसका फायदा उठा रहे हैं.

राजठाकरे के विरोध के बाद बढ़ा लाउडस्पीकर विवाद का शोर

गौरतलब है कि MNS प्रमुख राज ठाकरे ने प्रदेश की महा विकास आघाड़ी सरकार से 3 मई तक मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने की मांग की थी. राज ठाकरे का कहना है कि दूसरे समुदायों के सदस्यों को न चाहते हुए भी तेज आवाज में अजान सुननी पड़ती है. उन्होंने तीन मई के बाद मस्जिदों में अजान के विरोध में ऊंची आवाज में हनुमान चालीसा बजाने की धमकी दी थी.