लखनऊ के समिट बिल्डिंग में सील हुए सभी बार, आए दिन हो रहे हंगामे व मारपीट को देखते हुए वहां एक पुलिस चौकी स्थापित करने के निर्देश

579

समिट बिल्डिंग में रविवार रात युवक-युवतियों में हुई मारपीट की घटना को उच्चाधिकारियों ने गंभीरता से लिया है। इंटरनेट मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद विभूतिखंड पुलिस ने समिट बिल्डिंग के सभी बार सील कर दिए। पुलिस आयुक्त डीके ठाकुर के निर्देश पर सुरक्षा व्यवस्था पूरी होने तक सभी बार को सील करने के निर्देश दिए हैं। विभूतिखंड पुलिस ने इस मामले में 10 लोगों को गिरफ्तार कर शांति भंग की धारा में कार्रवाई की है। उधर, आबकारी विभाग ने माई बार हेडक्वार्टर को नोटिस भेजकर जवाब मांगा है। जवाब न मिलने पर उनका लाइसेंस भी निरस्त किया जाएगा। विभूतिखंड में समिट बिल्डिंग स्थित माई बार में रविवार रात नशे में लड़कियों ने जमकर हंगामा किया था। इस दौरान एक युवक की लड़कियों ने साथियों के साथ मिलकर पिटाई कर दी थी। मामले की जानकारी होने के बाद आबकारी विभाग भी हरकत में आया है। आबकारी विभाग ने बार संचालक को नोटिस जारी करते हुए लाइसेंस निलंबित करने की बात कही है।

जिला आबकारी अधिकारी सुशील कुमार मिश्र के मुताबिक विभूतिखंड में हुए उपद्रव के मामले में संचालक को नोटिस जारी किया जा रहा है। जवाब मिलने के बाद लाइसेंस निलंबन की कार्रवाई होगी। पुलिस आयुक्त ने समिट बिल्डिंग में आए दिन हो रहे हंगामे व मारपीट को देखते हुए वहां एक पुलिस चौकी स्थापित करने के निर्देश दिए हैं। सोमवार को माई बार में हुई मारपीट के दो और वीडियो वायरल हो गए। इसमें पांच लड़कियां आपस में मारपीट करती देखी गई हैं। इस दौरान लोग झगड़ा शांत करने के बजाय मस्ती करते दिख रहे हैं। यही नहीं, कई लोग वीडियो बनाते भी नजर आ रहे हैं। इंटरनेट मीडिया पर इस वीडियो को लेकर लोग तरह-तरह की चर्चा कर रहे हैं। सोमवार को पुलिस ने मारपीट के मामले में एफआइआर दर्ज की। पुलिस का कहना है कि 10 लोगों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ शांति भंग की कार्रवाई की जा रही है। अन्य आरोपितों की पहचान की कोशिश की जा रही है।

समिट बिल्डिंग में शनिवार रात को भी कुछ युवकों ने मूलरूप से बस्ती निवासी गौरव सिंह की जमकर पिटाई कर दी थी। हमले में गौरव के सिर में गंभीर चोट आई है। गौरव की पिटाई का वीडियो भी इंटरनेट मीडिया पर वायरल है। गौरव से कुछ लड़कियों ने भी मारपीट की थी। पुलिस रिपोर्ट दर्ज कर छानबीन कर रही है। 

कल बीएसई का इंडेक्स पांच फीसदी ऊपर बंद हुआ था। मालूम हो कि बजट के दिन यह सेंसेक्स में 24 सालों की सबसे बड़ी उछाल है। एक फरवरी को सेंसेक्स 2314.84 अंक ऊपर 48600 के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 646.60 अंक (4.74 फीसदी) की बढ़त के साथ 14281.20 के स्तर पर बंद हुआ था।

आज वैश्विक बाजार भी बढ़त के साथ कारोबार कर रहे हैं। इसका भी घरेलू बाजार पर असर दिखा। कोरिया का कोस्पी 2.23 फीसदी ऊपर कारोबार कर रहा है। हांगकांग का हेंगसेंग इंडेक्स, ऑस्ट्रेलिया का ऑल ऑर्डिनरीज इंडेक्स और जापान का निक्केई इंडेक्स एक-एक फीसदी से ज्यादा की बढ़त के साथ कारोबार कर रहे हैं। चीन का शंघाई कंपोजिट इंडेक्स में भी 0.55 फीसदी की बढ़त है। नैस्डैक इंडेक्स 2.55 फीसदी, एस एंड पी 500 इंडेक्स 1.61 फीसदी ऊपर बंद हुआ था। यूरोपियन मार्केट में फ्रांस का सीएसी इंडेक्स और जर्मनी का डीएएक्स इंडेक्स में भी एक-एक फीसदी बढ़त रही थी।

दिग्गज शेयरों की बात करें, तो आज शुरुआती कारोबार के दौरान श्री सीमेंट के अतिरिक्त भी कंपनियों के शेयर हरे निशान पर खुले। इनमें टीसीएस, एक्सिस बैंक, ओएनजीसी, एनटीपीसी, एशियन पेंट्स, मारुति रिलायंस, एम एंड एम, एल एंड टी, आईटीसी, आईसीआईसीआई बैंक, हिंदुस्तान यूनिलीवर, टाइटन, अल्ट्राटेक सीमेंट, नेस्ले इंडिया, एचसीएल टेक और टेक महिंद्रा शामिल हैं।

भारतीय बाजार पिछले कुछ माह के दौरान लॉकडाउन के बाद तेज पुनरोद्धार की उम्मीद से काफी तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। इसके अलावा सकारात्मक वैश्विक रुख, विदेशी संस्थागत निवेशकों के सतत प्रवाह और कंपनियों के बेहतर तिमाही नतीजों से भी धारणा मजबूत बनी हुई है।