लखनऊ : महिला कंडक्टर से बदसलूकी, बसों का संचालन ठप..

195

राजधानी लखनऊ में सिटी बस की महिला कंडक्टर से बदसलूकी का मामल गरमाता जा रहा है। महिला कंडक्टर से बदसलूकी की बात सामने आने के बाद बुधवार को सिटी बस के ड्राइवर और कंडक्टर हड़ताल पर चले गए। इसके चलते, बुधवार को राजधानी में सिटी बस सेवा ठप हो गई है। महिला कंडक्टर ने आरोप लगाया कि चेकिंग के दौरान केंद्र प्रभारी ने बदसलूकी की। धक्का दिया।

दरअसल जानकारी के मुताबिक, मंगलवार को दुबग्गा से मोहनलालगंज जा रही सिटी बस में डॉक्टर खेड़ा चौकी के पास टिकट चेकिंग शुरू हुई। चेकिंग के दौरान 3 यात्री बिना टिकट पाए गए। कंडक्टर माधुरी के मुताबिक, तीनों यात्रियों ने महज 100 मीटर पहले यात्रा शुरू की है। ऐसे में वह उनका टिकट नहीं बना पाईं। यात्रियों ने भी यही बात बताई। लेकिन, चेकिंग कर रहे वरिष्ठ केंद्र प्रभारी अनिल तिवारी ने उनकी बात नहीं सुनी और माधुरी पर पैसा लेकर यात्रा करवाने का आरोप लगाया। कंडक्टर माधुरी ने अधिकारी पर आरोप लगाते हुए बताया की, जब वह अपने पक्ष में यात्रियों और बाकी लोगों का वीडियो बनाने लगी, तो वरिष्ठ केंद्र प्रभारी ने उन्हें धक्का देते हुए जाति सूचक शब्दों का प्रयोग किया।

अनिल तिवारी को हटाने की मांग:-

आपको बता दें, इस पूरे घटनाक्रम को लेकर सिटी बस के ड्राइवर और कंडक्टर में भारी आक्रोश है। कंडक्टर और ड्राइवर चेकिंग में शामिल वरिष्ठ केंद्र प्रभारी अनिल तिवारी को हटाने की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि अनिल तिवारी संविदा पर कार्यरत हैं। उनको चेकिंग की जिम्मेदारी नहीं दी जा सकती है। दुबग्गा बस डिपो के ARM मनोज शर्मा का कहना है कि इस घटना की जांच की जा रही है। जांच रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी। कर्मचारियों से बस सेवा बहाल करने की अपील की जा रही है। जल्द ही सेवा शुरू होगी