अमित शाह का दौरा रद होने के बाद बंगाल के दौरे पर पहुंचीं स्मृति ईरानी, भाजपा योगदान मेले में करेंगी शिरकत

222

बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस को बड़ा झटका लगा। हाल में मंत्री पद से इस्तीफा देने वाले कद्दावर नेता राजीब बनर्जी समेत दो अन्य तृणमूल विधायकों एवं तीन और वरिष्ठ नेताओं (कुल छह नेताओं) ने दिल्ली जाकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से शाम में मुलाकात कर अनौपचारिक रूप से भाजपा में शामिल हो गए।

हालांकि औपचारिक रूप से तृणमूल के ये सभी बागी नेता रविवार को बंगाल के दौरे पर आईं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की मौजूदगी में भाजपा का झंडा थामेंगे। स्मृति अभी-अभी यानी सुबह करीब 10:10 बजे कोलकाता हवाई अड्डे पर पहुंच चुकीं हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का बंगाल दौरा रद होने के बाद उनकी जगह स्मृति ईरानी को भेजा गया है।वह हावड़ा के डोमूरजला मैदान में भाजपा के योगदान मेला में शिरकत करेंगी। दोपहर 12:00 बजे से यहां उनकी जनसभा भी है। इस दौरान तृणमूल के कई नेता औपचारिक रूप से भाजपा का दामन थामेंगे।

इधर, इस जनसभा को डिजिटल माध्यम से केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी संबोधित करेंगे।इससे एक दिन पहले शनिवार को पूर्व मंत्री राजीब बनर्जी के साथ जिन तृणमूल नेताओं ने दिल्ली जाकर शाह से मुलाकात की उनमें बीसीसीआइ के पूर्व अध्यक्ष दिगंवत जगमोहन डालमिया की बेटी व तृणमूल विधायक वैशाली डालमिया, हुगली के उत्तरपारा से विधायक प्रबीर घोषाल तथा हावड़ा नगर निगम के पूर्व मेयर रथीन चक्रवर्ती शामिल हैं।

इनके साथ नदिया के शांतिपुर से पूर्व तृणमूल विधायक पार्थ सारथी चट्टोपाध्याय व तृणमूल के बागी नेता एवं बांग्ला अभिनेता रुद्रनील घोष भी साथ में थे। दरअसल, शाह शुक्रवार देर रात की बंगाल के दो दिवसीय दौरे पर आने वाले थे जिस दौरान इन नेताओं के भाजपा में शामिल होने की बात थी। लेकिन, शाह का बंगाल दौरा अचानक रद होने के बाद तृणमूल के बागी नेताओं को शनिवार को विशेष चार्टर्ड विमान से कोलकाता से दिल्ली बुलाया गया। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल राय एवं राष्ट्रीय महासचिव व बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय की अगुवाई में ये सभी तृणमूल नेता चार्टर्ड विमान से शाम में दिल्ली पहुंचे। इसके बाद शाह के घर पर जाकर तृणमूल नेताओं ने उनसे मुलाकात की। शाह से मुलाकात के बाद ये सभी नेता शनिवार देर रात ही वापस कोलकाता लौट आए।

वहीं, हावड़ा में स्मृति ईरानी की उपस्थिति में तृणमूल कांग्रेस सहित विभिन्न दलों के नेता भाजपा में शामिल हो सकते हैं। गौरतलब है कि कद्दावर नेता राजीब बनर्जी ने पिछले दिनों मंत्री पद से इस्तीफे के बाद एक दिन पहले शुक्रवार को विधायक व तृणमूल कांग्रेस की सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया था।

बताते चलें कि इससे पहले कद्दावर नेता सुवेदु अधिकारी सहित सात तृणमूल विधायकों ने पिछले महीने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बंगाल दौरे के दौरान मेदिनीपुर में सभा में भाजपा में शामिल हो गए थे।