किसान आंदोलन करियों के समर्थन में आज गाजीपुर बॉर्डर पहुंचेंगे शिवसेना नेता संजय राउत, बोले- जय जवान जय किसान

361
sanjay raut
sanjay raut

कृषि कानूनों को वापस करने की मांग पर अडे किसान संगठनों में अब 6 फरवरी को देशभर में 3 घंटे का चक्का जाम करने का फैसला लिया है. इसके बाद अब केंद्र की सत्ता से खफा विपक्षी पार्टियों के नेताओं ने दिल्ली में डटे किसानों के प्रदर्शनों में माहौल बनाना शुरू कर दिया है. आम आदमी पार्टी के नेता जहां लगातार आंदोलन में अपनी मौजूदगी दर्ज कराते रहे हैं. वहीं अब एनडीए से अलग होकर महाराष्ट्र में महागठबंधन की सरकार बनाने वाली शिवसेना के नेता भी आंदोलन में पहुंचेंगे.

शिवसेना के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने ट्वीट के जरिए घोषणा की है कि वह आज दोपहर 1 बजे किसानों के आंदोलन में पहुंचेंगे. संजय रावत ने ट्वीट करते हुए कहा है कि किसान आंदोलन जिंदाबाद. जय जवान-जय किसान!

इस बीच देखा जाए तो एनसीपी के प्रमुख और महागठबंधन के हिस्सेदार शरद पवार ने भी हाल ही में ट्वीट के जरिए केंद्र सरकार के तीनों कृषि कानूनों की कड़ी आलोचना की थी. इस पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने भी उनको ट्वीट के जरिए जवाब दिया था. वहीं, उनको पूर्व में कृषि कानूनों में सुधार लाने का पैरोकार भी बताया था.

उधर, भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता और आंदोलन की कमान संभालने वाले किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा है कि सोमवार को आदिवासी मीना समाज राजस्थान द्वारा गांव- शीमला, मेहंदीपुर बालाजी राजस्थान मैं किसान पंचायत कर जो समर्थन दिया गया उससे किसान आंदोलन को बल मिला है.