बॉलीवुड के ‘खलनायक’ संजय दत्त आज मना रहे है अपना जन्मदिन ,परदे पर 50 साल पूरे कर चुके संजू , जेल जाकर भी बने सुपरस्टार

975

बॉलीवुड के ‘खलनायक’ संजय दत्त आज अपना 62वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं। इस मौके पर संजू बाबा ने अपने फैंस को एक तोहफा दिया है। अपने जन्मदिन के मौके पर संजय दत्त ने अपकमिंग फिल्म ‘केजीएफ 2’ का नया पोस्टर रिलीज़ किया है जिसमें वो खूंखार अधीरा के लुक में नज़र आ रहे हैं। अधीरा के लुक में पहले भी बाबा के पोस्टर सामने आ चुके हैं, लेकिन एक्टर के जन्मदिन पर फैंस के लिए नया पोस्टर रिलीज़ किया गया है।

हाथ में तलवार पकड़े संजय दत्त इस नए पोस्टर में काफी खतरनाक लग रहे हैं और उनके पीछे लोगों की भीड़ नज़र आ रही है। पोस्टर शेयर करते हुए बाबा ने अपने फैंस को धन्यवाद कहा है साथ ही ‘केजीएफ 2’ की रिलीज़ को लेकर बड़ा अपटेड दिया है। एक्टर ने पोस्टर के साथ कैप्शन में लिखा, ‘जन्मदिन की इतनी सारी बधाईयों के लिए आप सभी का शुक्रिया। ‘केजीएफ 2’ में काम करना का अनुभव काफी अच्छा रहा। मैं जानता हूं कि आप लोग लंबे से समय से फिल्म के रिलीज़ होने का इंतज़ार कर रहे हैं। मैं आश्वासन देता हूं कि आपका इंतज़ार करना बेकार नहीं जाएगा’।

आइए आपको बताते हैं संजय दत्त की कामयाब फिल्मों के बारे में।
फिल्म ‘रेशमा और शेरा’ में पहली बार बड़े परदे पर दिखे अभिनेतार संजय दत्त कैमरे के सामने 50 साल पूरे कर चुके हैं। 29 जुलाई 1959 को जन्मे संजय दत्त की जीवनगाथा इतनी फिल्मी है कि उस पर एक फिल्म बन भी चुकी है और उनको करीब से जानने वाले मानते हैं कि ऐसी तीन चार फिल्में अभी उनके किस्सों पर और बन सकती है। निर्देशक राज कुमार हीरानी की फिल्म ‘संजू’ ने जेल काटकर आए संजय दत्त की इमेज में काफी कुछ सुधार भी किया। निजी बातचीत में संजय दत्त भी मानते हैं कि उनसे जीवन में गलतियां बहुत हुईं और वह नहीं चाहते कि किसी दूसरे पर इसका कोई असर पड़े। वह अपने बच्चों के दोस्त बनकर रहते हैं, और चाहते हैं कि बच्चों को प्यार और दुलार के साथ अपना जीवन अपने हिसाब से जीने का अधिकार भी शुरू से ही मिलना चाहिए। 62 साल के हो चुके संजय दत्त ने फिल्मों में अपने कुछ बेहतरीन किरदारों से एक अलग छाप भी छोड़ी है,
एक बाल कलाकार के रूप में संजय दत्त ने वर्ष 1977 में आई फिल्म ‘रेशमा और शेरा’ से अभिनय में अपने करियर की शुरुआत कर दी थी। लेकिन, एक वयस्क कलाकार के रूप में हिंदी सिनेमा में उनकी एंट्री उनके पिता सुनील दत्त के निर्देशन में फिल्म ‘रॉकी’ से हुई। इस फिल्म में संजय के साथ रीना रॉय, टीना मुनीम, अमजद खान, राखी, रंजीत, शक्ति कपूर और अरुणा ईरानी अहम भूमिकाओं में नजर आए। फिल्म के शीर्षक के हिसाब से संजय ने रॉकी का ही किरदार निभाया है। रॉकी एक ऐसा लड़का होता है जो बड़ा तो हो जाता है लेकिन उसे पता ही नहीं है कि उसको जन्म किस मां ने दिया है। यह फिल्म संजय दत्त की मां नरगिस के निधन के कुछ ही दिन बाद रिलीज हुई। फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर ताबड़तोड़ कमाई की।

करण मल्होत्रा के निर्देशन में बनी इस फिल्म को लोग कांचा चीना के लिए ही याद करते हैं। कांचा का किरदार संजय दत्त ने ही निभाया है। यह फिल्म मुकुल आनंद के निर्देशन में वर्ष 1990 में आई अमिताभ बच्चन की सुपरहिट फिल्म ‘अग्नीपथ’ का रीमेक रही। हालांकि इसके निर्माताओं ने पुरानी फिल्म की कहानी में से कुछ किरदारों में हेरफेर किया है। कांचा एक बेईमान आदमी है जो मांडवा पर राज करता है। उसके यहां सारे गलत धंधे होते हैं। बेशक वह इस फिल्म का विलेन है लेकिन यह फिल्म दर्शकों को इस किरदार के लिए ही पसंद आई है जिसको संजय दत्त ने बखूबी निभाया है। संजय के अलावा इस फिल्म में ऋतिक रोशन, ऋषि कपूर, ओम पुरी, प्रियंका चोपड़ा, जरीना वहाब आदि मुख्य भूमिकाओं में हैं।
विवादों भरी रही निजी जिंदगी

संजय दत्त जब युवा थे तो उन्होने कई गलत रास्ते चुन लिए थे जिसकी वजह से उन्हें अपनी निजी जिंदगी में कई मुसीबतों का सामना करना पड़ा और उनकी अधिकतर जिंदगी विवादों के घेरे में रही। ड्रग्स मामले को लेकर संजय दत्त अपनी निजी जिंदगी में खूब चर्चा में रहे हैं। यहां तक की कई अभिनेत्रियों के साथ भी उनका नाम जुड़ चुका है।