कंगना और रंगोली को मिली बड़ी राहत, हाई कोर्ट ने गिरफ्तारी पर लगाई रोक

319

बॉलीवुड की क्वीन एक्ट्रेस कंगना रनौत अक्सर मीडिया में बयानों के चलते छाई रहती हैं। कंगना अक्सर सामाजिक मुद्दों पर बेबाकी से अपने विचार रखती हैं। पिछले कुछ महीनों में ऐसा कई बार देखने को मिला है। ऐसे में एक्ट्रेस के खिलाफ बीते महीने मुंबई में राजद्रोह का केस दर्ज हुआ था। इस मामले में कंगना और उनकी बहन रंगोली ने मुंबई पुलिस के समक्ष पेश होना था लेकिन वहां पेश होने के बजाय कंगना ने उस केस को खारिज करने की गुहार अदालत में लगाई थी।

वहीं अब इस केस में कंगना और रंगोली चंदेल को गिरफ्तारी से अंतरिम राहत दे दी है। हाईकोर्ट उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद दोनों बहनों के खिलाफ मामले की सुनवाई कर रहा था। हालांकि, हाईकोर्ट ने कंगना और रंगोली को 8 जनवरी को मुंबई पुलिस के सामने पेश होने का आदेश दिया है।

आपको बता दें मुंबई के बांद्रा के एक कोर्ट के आदेश के बाद एफआईआर दर्ज की गई थी। पुलिस ने कंगना रनौत और रंगोली चंदेल के खिलाफ एफआईआर सोशल मीडिया पर किए गए एक पोस्ट को लेकर की गई है। उन पर समाज में नफरत और सांप्रदायिक तनाव पैदा करने का आरोप है।

कंगना रनौत और रंगोली चंदेल के खिलाफ यह शिकायत कास्टिंग डायरेक्टर मुनव्वर अली ने की थी। उन्होंने कहा कि दोनों बहनों ने अपने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए पूरी फिल्म इंडस्ट्री को बदनाम किया है। इसके बाद कंगना और रंगोली ने बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर कर अपने खिलाफ मुंबई पुलिस द्वारा दर्ज एफआईआर को रद्द करने का अनुरोध किया था।

गौरतलब है कि इसके पहले उन्हें 26 अक्टूबर, 27 अक्टूबर, 9 नवंबर और 10 नवंबर को भी पूछताछ के लिए बुलाया गया था लेकिन वो पुलिस के सामने पेश नहीं हुईं। उन्होंने अपने वकील से कहलवाया था कि वो 15 नवंबर तक अपने भाई की शादी को लेकर हिमाचल प्रदेश में हैं. मुंबई पुलिस ने इसके बाद उन्हें 23 और 24 नवंबर को तीसरा नोटिस भेजा था।