उत्तर प्रदेश में नामकरण की राजनीति हुई तेज़, झाँसी रेलवे स्टेशन का नाम अब वीरांगना लक्ष्मीबाई

178
jhansi railway station
jhansi railway station

उत्तर प्रदेश सरकार ने नाम बदलने का ऐसा कोर्स किया है जो आज तक किसी भी राज्य सरकार ने नहीं किया. गौरतलब हो की शहरों के बाद नाम बदलने का नंबर अब रेलवे स्टेशन का आया है. मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम दीन दयाल उपाध्याय रखने के बाद अब झाँसी रेलवे स्टेशन का नाम भी बदल दिया गया. अब वीरांगना लक्ष्मीबाई के नाम से जाना जाएगा.

बुधवार को गृह मंत्रालय के प्रस्ताव पर सहमति जताते हुए राज्य सरकार ने स्टेशन का नाम बदलने की अधिसूचना जारी कर दी है। अब रेल मंत्रालय से आदेश मिलते ही मंडल रेल प्रशासन नाम बदलने की विभागीय प्रक्रिया शुरू करेगा। स्टेशन कोड भी बदला जाएगा। अमर उजाला भी इस मुद्दे को लगातार उठाता रहा है।
 
झांसी रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर वीरांगना रानी लक्ष्मीबाई करने की मांग लंबे समय से की जा रही थी। बुंदेलखंड की जनता की मांग पर जनप्रतिनिधियों की तरफ से इसका प्रस्ताव सरकार के पास भेजा गया था। विगत तीन अगस्त को इस बात की जानकारी लोकसभा में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने दी थी। इसके बाद गृह मंत्रालय ने संबंधित एजेंसियों की टिप्पणियां और विचार आमंत्रित किए थे। इस प्रक्रिया के पूरी होने के बाद 24 नवंबर 2021 को गृह मंत्रालय ने राज्य सरकार को नाम बदलने के लिए पत्र लिखा था।