जम्मू कश्मीर : श्रीनगर में फिर आतंकी हमला – ईदगाह इलाके में सुरक्षा बलों पर ग्रेनेड फेंका, पुलिसकर्मी और नागरिक घायल

    262

    जम्मू कश्मीर में एक बार फिर से आतंकी हमला हुआ है. श्रीनगर के अली मस्जिद ईदगाह इलाके में आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर ग्रेनेड फेंका है. ताजा जानकारी के मुताबिक एक हमले में एक आम नागरिक और एक पुलिसकर्मी घायल हुआ है. बीते कुछ समय से कश्मीर में टारगेट किलिंग और आम लोगों पर हमले काफी ज्यादा बढ़ गए हैं.

    जानकारी के मुताबिक पुलिसकर्मी छुट्टी पर था. आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक संदिग्ध आतंकियों ने CRPF की 161 बटालियन कैंप के पास ग्रेनेड फेंका, जिसमें पुलिसकर्मी और आम नागरिक घायल हो गया. हमले में घायल नागरिक की पहचान एजाज अहमद भट (41) के रूप में हुई है, जो हवाल का रहने वाला था. जबकि पुलिसकर्मी का नाम सज्जाद अहमद भट है, जो नरवरा ईदगाह का निवासी है. दोनों को SHMS हॉस्पिटल में भर्ती किया गया है. बताया जा रहा है कि नागरिक के चेहरे पर चोट आई है जबकि पुलिसकर्मी के हाथ और पांव में चोट आई है.

    लगातार हो रहे आतंकी हमले
    घाटी में बीते कुछ समय से आतंकी आम नागरिकों को निशाना बनाने में लगे हुए हैं. यहां टारगेट किलिंग काफी बढ़ गई है. पिछले सोमवार को फिर से आम नागरिक को निशाना बनाया गया. हमले के बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था. मगर इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया. पुलिस के मुताबिक यह हमला पुराने श्रीनगर के एक इलाके में हुआ था.

    कश्मीरी पंडित को दी गई थी धमकी
    जिस शख्स की हत्या की गई, वह कश्मीरी पंडित संदीप मावा का स्टाफ था. मावा ने बताया कि उसे चेतावनी दी गई थी वह दुकान छोड़कर चला जाए. उन्होंने बताया कि उन्हें पुलिस की ओर से फोन आया था और संभावित हमले के बारे में बताया गया था. मावा ने बताया कि शाम को दुकान जल्दी बंद कर उसका सेल्समैन कार में सवार हो गया. मगर उसे गोली मार दी गई. माना जा रहा है कि शायद आतंकियों ने उसे मावा समझ लिया था.

    केंद्र सरकार ने लिया बड़ा फैसला
    कश्मीर में लगातार हो रहे हमलों के बीच सेना लंबे समय से सर्च ऑपरेशन चला रही है. इस बीच केंद्र सरकार ने भी बड़ा फैसला लिया है. सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करने के लिए घाटी में सीआरपीएफ की पांच अतिरिक्त कंपनियों को तैनात किया जाएगा. बीते कुछ दिनों से आम लोगों की हत्याओं के बाद 25 कंपनियों को जम्मू कश्मीर पहले ही भेजा जा चुका है.