जम्मू-कश्मीर: श्रीनगर के लावापोरा में आतंकी हमला, CRPF के तीन जवान घायल, एक शहीद

    527

    श्रीनगर के बाहरी इलाके लावापोरा में आतंकियों ने सीआरपीएफ की नाका पार्टी पर हमला किया। इस हमले में सीआरपीएफ के चार जवान घायल हुए जिनको  उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां एक जवान शहीद हो गए। वहीं आतंकियों की तलाश में इलाके की घेराबंदी कर अभियान चलाया जा रहा है। इस हमले में किसी भी नागरिक के हताहत होने की सूचना नहीं है।

    सीआरपीएफ के पीआरओ ओपी तिवारी ने बताया कि नाका पार्टी पर तैनात 73वीं बटालियन  पर आतंकियों ने अंधाधुंध गोलीबारी की। जिसमें चार जवान घायल हुए जिनमें से एक जवान शहीद हो गया है।

    इस बीच सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हमलावरों की संख्या तीन बताई जा रही है। जोकि ताबड़तोड़ फायरिंग करने के बाद भाग निकले। इस दौरान सुरक्षा कर्मियों द्वारा संयम बरता गया क्योंकि इलाक़ा भीड़भाड़ वाला था। जवान अगर वह जवाबी कार्रवाई करते तो स्थानीय लोगों को नुकसान पहुंच सकता था।

    घाटी में आतंकियों और उनके समर्थन में पत्थरबाजी करने वालों पर नकेल कसी जा रही है। इसी के चलते आतंकी संगठन बौखलाए हुए हैं। पुलिस के कश्मीर रेंज के आईजी विजय कुमार ने सोमवार को कहा था कि घाटी में आतंकवाद से बड़ा मुद्दा पत्थरबाजी है। इस पत्थरबाजी से घाटी का माहौल खराब होता है। इस बार गर्मियों के दौरान किसी को भी शांति भंग करने नहीं दी जाएगी। जो भी पत्थरबाजी में शामिल पाया जाएगा उसके खिलाफ पीएसए के तहत कार्रवाई की जाएगी।

    आईजीपी ने कहा कि मुठभेड़ स्थल पर पत्थरबाजी की घटना को अंजाम दिया जाता है। जबकि हकीकत यह है कि मुठभेड़ स्थलों के आस पास के गावों के कोई भी युवा पत्थरबाजी करने नहीं पहुंचते हैं। मुठभेड़ के दौरान स्थानीय लोगों को सुरक्षित निकालने के दौरान शरारती तत्व पत्थरबाजी को अंजाम देते हैं।