महिला किकेट विश्व कप: भारत ने पाकिस्तान को दी 107 रन से शिकस्त

268
Indian women win against Pakistan’ in world cup

महिला विश्व कप में भारत ने जीत के साथ आगाज किया है। अपने पहले मैच में टीम इंडिया ने पाकिस्तान को 107 रन से हरा दिया। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम ने 50 ओवर में सात विकेट गंवाकर 244 रन बनाए थे। स्मृति मंधाना ने 52 रन, दीप्ति शर्मा ने 40 रन, पूजा वस्त्रकर ने 67 रन और स्नेह राणा ने नाबाद 53 रन की पारी खेली थी।

जवाब में पाकिस्तान की टीम 43 ओवर में 137 रन पर ऑलआउट हो गई। पाकिस्तान की ओर से सिदरा अमीन ने सबसे ज्यादा 30 रन बनाए। वहीं, भारत की ओर से राजेश्वरी गायकवाड़ ने बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 10 ओवर में 31 रन देकर चार विकेट झटके।

इसके अलावा झूलन गोस्वामी और स्नेह राणा को दो-दो विकेट मिले। मेघना और दीप्ति ने एक-एक खिलाड़ी को पवेलियन भेजा। भारतीय टीम अब 10 मार्च को न्यूजीलैंड के खिलाफ हैमिल्टन में मैच खेलेगी। पूजा को उनकी बेहतरीन पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच अवॉर्ड दिया गया।

भारत की पाकिस्तान पर लगातार 11वीं जीत
आंकड़ों की बात करें तो भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ वनडे में लगातार 11वीं जीत हासिल की। टीम इंडिया ने पाकिस्तान के खिलाफ सभी 11 मुकाबले जीते हैं। वहीं, महिला वनडे विश्व कप में दोनों टीमों के बीच चार मुकाबले खेले गए हैं। भारत ने चारों मैच में पाकिस्तान को हराया है। फैन्स एक हाईवोल्टेज मुकाबले की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन भारतीय टीम ने इसे एकतरफा बना दिया।

विश्व कप में लगातार 15 मैच हार चुका पाकिस्तान
पाकिस्तान की महिला टीम का वनडे विश्व कप में रिकॉर्ड बेहद खराब रहा है। टीम 16 मार्च 2009 से लेकर अब तक विश्व कप में 15 मैच खेल चुकी है और सभी में हार का सामना करना पड़ा है।

भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही
टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। शेफाली वर्मा शून्य पर आउट हुईं। इसके बाद दीप्ति शर्मा और स्मृति मंधाना ने मिलकर भारत को अच्छी स्थिति तक पहुंचाया। दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिए 116 गेंदों पर 92 रन की साझेदारी हुई। 96 रन के कुल स्कोर पर भारत को दूसरा झटका लगा। दीप्ति 40 रन बनाकर आउट हुईं। इसके बाद स्मृति ने वनडे करियर का 21वां अर्धशतक लगाया। हालांकि, इसके बाद वह ज्यादा देर तक नहीं टिक सकीं।

मंधाना ने वनडे में 21वां अर्धशतक लगाया
मंधाना के आउट होते ही विकेट की झड़ी लग गई। 114 तक भारत ने छह विकेट गंवा दिए थे। 18 रन बनाने में भारत ने पांच विकेट गंवाए। कप्तान मिताली राज नौ रन, उप-कप्तान हरमनप्रीत कौर पांच रन और ऋचा घोष एक रन बनाकर आउट हुईं। इसके बाद स्नेह और पूजा ने मिलकर भारत को 200 के पार पहुंचाया। इन दोनों ने सातवें विकेट के लिए 97 गेंदों पर 122 रन की साझेदारी की। दोनों के बीच हुई 122 रन की साझेदारी सातवें विकेट के लिए भारत की सबसे बड़ी साझेदारी है।

पूजा और स्नेह राणा ने बेहतरीन पारी खेली
पूजा ने भारत की ओर से 59 गेंदों पर सबसे ज्यादा 67 रन बनाए। यह आठवें विकेट पर भारतीय बल्लेबाज द्वारा सबसे बड़ा स्कोर है। वहीं, स्नेह राणा 48 गेंदों पर 53 रन बनाकर नाबाद रहीं। स्नेह के अलावा झूलन गोस्वामी छह रन बनाकर नाबाद रहीं। पाकिस्तान की ओर से निदा डार और नशरा संधू ने दो-दो विकेट लिए। वहीं, डायना बेग, अनम अमीन और फातिमा सना को एक-एक विकेट मिला।

पाकिस्तान की पारी 137 रन पर सिमटी
244 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान की टीम की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही। टीम को लगातार अंतराल पर झटके लगते रहे और पाकिस्तान इससे उबर नहीं पाया। सिदरा अमीन 30 रन, जावेरिया खान 11 रन, कप्तान बिस्माह मारूफ 15 रन, ओमैमा सोहेल पांच रन, निदा डार चार रन, आलिया रियाज 11 रन, फातिमा सना 17 रन, सिदरा नवाज 12 रन और नाशरा संधू शून्य बना सकीं। आखिर में डायना बेग ने पारी संभालने की कोशिश की, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। मेघना सिंह ने डायना (24 रन) को आउट कर पाकिस्तान की पारी को 137 रन पर समेट दिया।