श्रीलंका को Economic Crisis से उबारने के लिए मदद करेगा भारत

386
India-Sri lanka

श्रीलंका की अर्थव्यवस्था बुरे दौर से गुजर रहा है. भारत सरकार ने पड़ोसी मुल्क की मदद करने के लिए हाथ बढ़ाया है. भारत श्रीलंका को एक अरब डॉलर का कर्ज देगा जिससे श्रीलंका की सरकार भोजन, दवा और अन्य आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी कर सके.

आज नई दिल्‍ली में श्रीलंका के वित्‍त मंत्री श्री बासिल राजपक्षे ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और केंद्रीय विदेश मंत्री एस जयशंकर से मुलाकात की. इस मुलाकात के दौरान दोनों पक्षों ने पारस्परिक हित और आर्थिक सहयोग के व्यापक मुद्दों पर चर्चा की. इसी बैठक में श्रीलंका को भोजन, दवा और अन्य आवश्यक वस्तुओं की खरीद के लिए 1 बिलियन डॉलर की क्रेडिट सुविधा के लिए एसबीआई और श्रीलंका सरकार के बीच अनुबंध पर हस्ताक्षर किए गए. दरअसल एक अरब डॉलर के आपातकालीन वित्तीय सहायता के लिए राजपक्षे की दिसंबर की शुरुआत में दिल्ली की यात्रा के बाद से बातचीत चल रही थी.

तब दोनों पक्षों ने श्रीलंका की मंदी से निपटने के लिए चार-आयामी” दृष्टिकोण पर सहमत हुए, जिसमें भोजन जैसी आवश्यक वस्तुओं दवाएं और ईंधन के आयात के लिए भारतीय क्रेडिट लाइनें, श्रीलंका के विदेशी भंडार को बढ़ावा देने में मदद करने के लिए मुद्रा स्वैप, त्रिंकोमाली तेल टैंक फार्म की एक “प्रारंभिक” आधुनिकीकरण परियोजना, और श्रीलंका में भारतीय निवेश की सुविधा के लिए कोलंबो की प्रतिबद्धता शामिल थीं.

इससे पहले श्रीलंका के वित्त मंत्री बासिल राजपक्षे ने बुधवार को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की और द्विपक्षीय मामलों और एक असाधारण आर्थिक संकट की चपेट में श्रीलंका को भारतीय सहायता पर चर्चा की.