IND vs ENG: बदसलूकी से बाज नहीं आ रहे इंग्लैंड के दर्शक,बाउंड्री पर खड़े मोहम्मद सिराज पर गेंद फेंकी,ऋषभ पंत ने सुनाया पूरा किस्सा

222

भारतीय युवा तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) को एक बार फिर से दर्शकों ने निशाना बनाया. ऑस्ट्रेलिया दौरे पर वे नस्लीय टिप्पणियों का शिकार हुए थे. अब इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में दर्शकों ने उन पर कथित तौर पर गेंद फेंकी. ऋषभ पंत (Rishabh Pant) ने पहले दिन का खेल समाप्त होने के बाद मीडिया से बातचीत में इस बारे में खुलासा किया. उन्होंने बताया कि सिराज बाउंड्री के पास फील्डिंग कर रहे थे तब यह घटना हुई. टीवी कैमरों ने भी दिखाया कि कोहली इस बात से गुस्सा थे. उन्होंने सिराज से उस चीज को बाहर फेंकने के लिए कहा. यह लगातार दूसरा मैच है जब बाउंड्री के पास खड़े भारतीय खिलाड़ियों को दर्शकों ने निशाना बनाया. लॉर्ड्स टेस्ट के दौरान दर्शकों ने शैंपेन की बोतलों का कॉर्क मैदान में फेंका था. इनमें से कुछ कॉर्क वहां पर तैनात केएल राहुल के पास पड़े थे.

पंत ने सिराज वाली घटना के बारे में मीडिया से कहा, ‘मुझे लगता है कि किसी ने सिराज पर गेंद फेंकी. इसलिए वह (कोहली) नाराज थे. आप जो चाहे वह कह सकते हैं लेकिन फील्डर्स पर सामान मत फेंकिए. मेरे हिसाब से यह क्रिकेट के लिए ठीक नहीं है.’ पहले दिन के खेल के दौरान सिराज की दर्शकों के साथ बात करने की तस्वीर भी सामने आई. बताया गया कि दर्शक सिराज को बार-बार भारत के स्कोर को लेकर चिढ़ा भी रहे थे. हालांकि यहां पर भारतीय खिलाड़ी ने उन्हें बढ़िया जवाब दिया और हाथों के इशारे से बताया कि स्कोर 1-0 है यानी सीरीज में भारत 1-0 से आगे है. तीसरे टेस्ट की पहली पारी में भारत 78 रन पर निपट गया था,

27 साल के मोहम्मद सिराज वर्तमान सीरीज में भारत के सबसे कामयाब गेंदबाजों में से हैं. उन्होंने पहले दो टेस्ट में 11 विकेट लिए थे. लॉर्ड्स टेस्ट में भारत की जीत में उनका अहम योगदान था जहां उन्होंने आठ विकेट लिए थे.

ऑस्ट्रेलिया में सिडनी टेस्ट में भी हुई थी बदसलूकी
मोहम्मद सिराज को इस साल की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी दर्शकों की बदसलूकी का सामना करना पड़ा था. सिडनी टेस्ट के दौरान कुछ दर्शकों ने उन पर नस्लीय टिप्पणियां की थी और उन्हें अलग-अलग नामों से पुकारा था. इसके चलते खेल को रोकना पड़ा था और उत्पाती दर्शकों को बाहर किया गया था. सिराज और अजिंक्य रहाणे ने तब इस बारे में अंपायर से शिकायत की थी. इसके चलते काफी विवाद हुआ था.

इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट के पहले दिन भारत की हालत खराब रही. टीम इंडिया पहले बैटिंग करते हुए 78 रन पर सिमट गई. इसके जवाब में इंग्लैंड ने बिना नुकसान के 120 रन बना लिए थे.