चीन के खिलाफ अमेरिका का सख्त तेवर, बोला- वैश्विक व्यवस्था तोड़ी तो जवाबदेह ठहराएंगे

409
USA bans import of oil,gas and energy

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन का प्रशासन फिलहाल चीन पर नरमी बरतते हुए दिखाई नहीं दे रहा है। विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन ने कहा है कि बीजिंग में चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता यांग जेइची से बातचीत में उन्होंने शिनजियांग से लेकर हांगकांग और तिब्बत तक मानवाधिकारों के उल्लंघन का मुद्दा उठाया और अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था तोड़ने पर चीन को जवाबदेह ठहराने का संदेश दिया है।

20 जनवरी को राष्ट्रपति बाइडन द्वारा काम शुरू करने के बाद दोनों नेताओं के बीच यह पहली वार्ता थी। ब्लिंकेन ने कहा कि अमेरिका लोकतांत्रिक मूल्यों समेत शिनजियांग, तिब्बत और हांगकांग में मानवाधिकारों के उल्लंघन को लेकर काफी चिंतित है। इससे  पहले बाइडन ने यह साफ कर दिया था कि चीन का अड़ियल रवैया बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

अब अमेरिकी विदेश मंत्री ने यांग जेइची से बातचीत के बाद ट्वीट किया कि उन्होंने फोन पर चीन को स्पष्ट कर दिया है कि अमेरिका अपने राष्ट्रीय हितों और लोकतांत्रिक मूल्यों के लिए खड़ा रहेगा और वैश्विक व्यवस्था के दुरुपयोग पर बीजिंग को जवाबदेह ठहराएगा। ब्लिंकेन ने यह भी कहा कि चीन को चाहिए कि वह म्यांमार में तख्तापलट की निंदा करे।