अमित शाह ने फिर दोहराया CAA पर अपना दावा, कहा कानून अपनी जगह है और यह केंद्र सरकार का संकल्प है.

339

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नागरिकता संशोधित कानून (CAA) को लेकर अपना दावा एक बार फिर दोहराया है. उन्होंने शुक्रवार को कोलकाता में कहा कि CAA लागू होगा. कानून अपनी जगह है और यह केंद्र सरकार का संकल्प है. अमित शाह दो दिन के दौरे पर पश्चिम बंगाल पहुंचे. यहां पर उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी की तैयारियों का जायजा लिया और स्थानीय नेताओं से मुलाकात भी की.

बता दें कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सीएए के विरोध में रहीं हैं. उन्होंने यहां तक कहा था कि बंगाल में सीएए लागू करने के लिए मेरी लाश से गुजरना होगा. ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि अगर आप मेरी सरकार को बर्खास्त करना चाहते हैं तो कर दें, लेकिन मैं कभी भी सीएए को पश्चिम बंगाल में लागू नहीं होने दूंगी.

वहीं, अब अमित शाह ने कोलकाता में अब ये बयान देकर ममता बनर्जी को सीधी चुनौती दी है. अब देखना होगा कि ममता बनर्जी अमित शाह के बयान पर क्या प्रतिक्रिया देती हैं.

CAA के खिलाफ ममता ले चुकी हैं ‘संकल्प’

सीएए को पश्चिम बंगाल में लागू न करने के लिए ममता बनर्जी संकल्प भी ले चुकी हैं. ममता बनर्जी ने कहा था कि हम सभी नागरिक हैं. हमारा आदर्श सभी धर्मों में सौहार्द है. हम किसी को बंगाल नहीं छोड़ने देंगे. हम शांति के साथ व चिंता मुक्त होकर रहेंगे. हम बंगाल में एनआरसी व सीएए को अनुमति नहीं देंगे. हमें शांति बनाए रखना है.

‘200 से ज्यादा सीटें जीतने का दावा’

अमित शाह ने कहा कि ममता बनर्जी के हाथों में बंगाल की कमान दी गई थी. मगर आज मां, माटी और मानुष का नारा तुष्टिकरण, तानाशाही और टोलबाजी में परिवर्तित हो गया. अमित शाह ने इसके साथ ही बंगाल में 200 से ज्यादा सीटें जीतने का भी दावा किया. उन्होंने कहा कि मैं निश्चित रूप से कहता हूं कि आने वाले चुनाव में बंगाल में हम 200 से ज्यादा सीटों के साथ बीजेपी की सरकार बनाने जा रहे हैं.