Happy Birthday Rishi Kapoor: ऋषि कपूर के जन्मदिन पर एक्टर की आखिरी फिल्म ‘शर्माजी नमकीन’ का फर्स्ट लुक हुआ रिलीज

412

दिवंगत अभिनेता ऋषि कपूर की 69वीं बर्थ एनिवर्सिरी पर उनके फैंस को एक खास तोहफा मिला है। उनकी आखिरी फिल्म ‘शर्माजी नमकीन’ का पहला लुक रिलीज हो गया है। बताया जा रहा है कि ऋषि इस फिल्म की शूटिंग पूरी नहीं कर पाए थे। ऐसे में उनके चरित्र को परेश रावल ने भी चित्रित किया है। इसके साथ ही ट्विटर पर #RishiKapoor और #SharmajiNamkeen ट्रेंड हो रहा है।

इस पोस्टर में एक तरफ ऋषि कपूर नज़र आ रहे हैं तो दूसरी तरफ उसी लोकेशन और सेम लुक में परेश रावल हैं। एक्सेल एंटरटेनमेंट और मैकगफिन पिक्चर्स द्वारा निर्मित, नवोदित हितेश भाटिया द्वारा निर्देशित, यह फिल्म एक प्यारे 60 वर्षीय व्यक्ति की कहानी है।

एक्सेल एंटरटेनमेंट द्वारा प्रस्तुत और मैकगफिन पिक्चर्स प्रोडक्शन की इस फ़िल्म का निर्देशन डेब्यू निर्देशक हितेश भाटिया ने किया है। फिल्म रितेश सिधवानी, फरहान अख्तर, हनी त्रेहान, अभिषेक चौबे द्वारा निर्मित और कासिम जगमगिया द्वारा सह-निर्मित है। जूही चावला भी इसमें अहम किरदार निभाएंगी।

ऋषि कपूर की बेटी रिद्धिमा कपूर ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर फिल्म का पोस्टर शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा- ‘हमें एक बहुत खास फिल्म ‘शर्माजी नमकीन’ का पोस्टर शेयर करते हुए गर्व हो रहा है। जिसमें हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के सबसे प्रसिद्ध अभिनेताओं में से एक, जिनके अद्वितीय काम और शानदार करियर को हम हमेशा संजो कर रखेंगे, मिस्टर ऋषि कपूर। उनके प्यार, सम्मान और याद के प्रतीक के रूप में और उनके लाखों फैंस को उपहार के रूप में, उनकी अंतिम फिल्म का पहला लुक रिलीज किया गया है। परेश रावल जी को बहुत धन्यवाद, जिन्होंने ऋषि जी द्वारा निभाए गए उसी किरदार को निभाने का संवेदनशील कदम उठाने की सहमति देकर फिल्म को पूरा किया।’

बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता ऋषि कपूर का जन्म 04 सितम्बर 1952 को मुंबई में हिंदी सिनेमा के जाने-माने परिवार में हुआ था। ऋषि बॉलीवुड जगत में सबसे लोकप्रिय निर्माता, अभिनेता और निर्देशक के रूप में जाने जाते हैं। इन्होंने कई शानदार फिल्में दी हैं। उनकी फिल्मों को लोग आज भी पसंद करते हैं। उन्होंने अपने स्कूल और कॉलेज की पढ़ाई मुंबई और अजमेर से की। ऋषि कपूर ने फ़िल्मी करियर की शुरुआत साल 1970 में आई फिल्म ‘मेरा नाम जोकर’ से एक बाल कलाकार के रूप में की थी। ये उनके पिता की फिल्म थी। हालांकि ऋषि कपूर को एक अभिनेता के रूप में पहचान साल 1973 में आई फिल्म ’बॉबी’से मिली, जिसमें उनके साथ डिंपल कपाड़िया नजर आईं थी। ये फिल्म सुपर हिट रही थी और इस फिल्म के साथ ऋषि स्टार बन गए।

ऋषि कपूर ने कभी भी अपने काम को लेकर शिकायत नहीं की। ऋषि उन अभिनेताओं में से थे, जो चाहते तो सिर्फ हीरो की भूमिका ही निभा सकते थे, लेकिन उन्होंने हमेशा फिल्मों में हर किरदार के महत्व को समझकर काम किया, चाहे वो हीरो का दोस्त हो या विलेन। अभिनेता ऋषि कपूर एक बहुत ही प्रतिभाशाली कलाकार थे। अमर अकबर एंथनी, चांदनी, मेरा नाम जोकर, प्रेम रोग, दामिनी, अग्निपथ, स्टूडेंट ऑफ द ईयर, 102 नॉट आउट, दो प्रेमी जैसी फिल्मों में उनका सराहनीय अभिनय अभी भी हमारे दिलों दिमाग में है।

ऋषि कपूर ने साल 1980 में नीतू से की थी। इनकी मुलाकात साल 1974 में आई फिल्म ‘जहरीला इंसान’ के सेट पर हुई थी। जहां दोनों में गहरी दोस्ती हो गई थी। उस वक़्त नीतू ऋषि की लव गुरु बन उनकी गर्लफ्रेंड के लिए टिप दिया करती थीं। हालांकि बाद में यह दोस्ती प्यार में बदल गई। ऋषि और नीतू ने एक साथ कई सारी फिल्मों में काम किया है। आज भी ऋषि कपूर का वो अंदाज़ कायम है।