SC ने कहा- क्या देश में सब कुछ रोक दिया जाए? तय समय पर होंगी NEET-JEE परीक्षा, याचिका खारिज की

239
One Rank One Pension

सुप्रीम कोर्ट ने देश की सबसे अहम परीक्षा में शुमार JEE Main 2020 और NEET 2020 परीक्षाओं पर अपना फैसला सुना दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने 11 छात्रों की कोविड-19 स्थिति को देखते हुए जेईई मेन और नीट परीक्षा स्थगित करने वाली याचिका को खारिज कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि परीक्षाएं तय समय पर ही आयोजित की जाएंगी. सुनवाई के दौरान जस्टिस अरुण मिश्रा ने कहा कि शिक्षा से जुड़ी चीजों को अब खोल देना चाहिए, क्योंकि COVID-19 एक साल और जारी रह सकता है.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने मेडिकल प्रवेश परीक्षा NEET और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा JEE मेन को स्थगित करने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई की. याचिका में कोविड-19 संक्रमण के बढ़ते मामलों के चलते सिंतबर में प्रस्तावित JEE मेन और NEET यूजी परीक्षाओं को टालने की मांग की गई थी. लेकिन अब अपने तय शेड्यूल के अनुसार ही JEE मेन परीक्षा 1 सितंबर से 6 सितंबर तक आयोजित की जाएगी, वहीं NEET परीक्षा 13 सितंबर को आयोजित की जाएगी.

11 राज्यों के 11 छात्रों ने देश में तेजी से कोविड-19 संक्रमित मामलों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर JEE मेन और NEET यूजी परीक्षाएं स्थगित करने के अनुरोध के साथ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी. याचिका में कोरोनावायरस महामारी का जिक्र करते हुए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) के तीन जुलाई के नोटिस को रद्द करने का अनुरोध किया गया था. याचिका में कोर्ट से मांग की गई थी कि जब तक स्थिति सामान्य नहीं होती है, तब तक परीक्षा न कराई जाएं.

परीक्षा स्थगित करने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि क्या देश में सब कुछ रोक दिया जाए? क्या एक कीमती साल को यूं ही बर्बाद हो जाने दिया जाए? कोर्ट ने आगे कहा कि यह सुरक्षा उपायों के साथ आगे बढ़ने का समय है. वहीं, NTA की ओर से पेश SG तुषार मेहता ने भी कोर्ट से कहा कि सुरक्षा उपायों के साथ परीक्षा आयोजित कराने की इजाजत दी जानी चाहिए. हालांकि, सभी दलीलों के बाद कोर्ट ने आज जेईई मेन और नीट परीक्षा स्थगित करने वाली याचिका को खारिज कर दिया है और जेईई मेन और नीट परीक्षा को तय पर समय आयोजित करने का फैसला सुना दिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here