‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ का विवाद पहुंचा कोर्ट, बेटे ने कहा ‘मां को वेश्या बना दिया’

646
Gangubai Kathiawadi controversy
Gangubai Kathiawadi controversy

आलिया भट्ट स्टारर गंगूबाई काठियावाड़ी फिल्म ट्रेलर रिलीज होने के बाद से ही चर्चा में बनी हुई है. बता दे कि फिल्म रिलीज होने के लिए पूरी तरह से तैयार है. हालांकि इसके पहले ही इसपर संकट के बादल छाने लगे हैं. दरअसल गंगूबाई के परिवारवालों ने फिल्म को लेकर नाराजगी जाहिर की है और अब इस पर कोर्ट की ओर रुख किया है. जी हां परिवार वालों का कहना है कि जिस तरह से फिल्म में गंगूबाई को दिखाया गया है लोग उनके परिवार पर सवाल उठा रहे हैं और गंगूबाई के परिजनों ने इस फिल्म की कहानी और गंगूबाई की छवि पर आपत्ति जताई है और कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है.

गंगूबाई के गोद लिए हुए बेटे बाबू रावजी शाह ने फिल्म की कहानी पर जमकर एतराज दिखाया है और उन्होंने साल 2021 में भी जब फिल्म की पहली झलक आई थी तभी से वो इसके खिलाफ हैं और उन्होंने मुंबई की एक अदालत ने संजय लीला भंसाली और आलिया भट्ट को इस मामले में तलब किया था. हालांकि बाद में बॉम्बे हाईकोर्ट ने गंगूबाई काठियावाड़ी की रिलीज पर रोक लगाने से इनकार कर दिया और फिल्म के निर्माताओं के खिलाफ आपराधिक मानहानि की कार्यवाही पर भी अंतरिम रोक लगा दी, मामला अभी भी पेडिंग है. आजतक से बात करते हुए, बाबू रावजी शाह ने अपनी नाराजगी व्यक्त की. बाबू रावजी ने कहा ‘मेरी मां को वेश्या बना दिया गया है, लोग अब मेरी मां के बारे में बेवजह बातें कर रहे हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ‘गंगूबाई काठियावाड़ी’ फिल्म का ट्रेलर रिलीज होने के बाद से गंगूबाई के परिवार वालों की मुश्किलें बढ़ गई हैं. यहां तक कि उनके फैमिली मेंबर्स को मुंबई में बार-बार अपना घर भी बदलना पड़ रहा है, ताकि वे लोगों के तीखे सवालों से बच सकें. लगातार लोगों के बीच मजाक बन रहे गंगूबाई के बेटे ने अपनी मां और परिवार की इज्जत बचाने के लिए कोर्ट जाने का फैसला किया है. गंगूबाई के परिवार के वकील नरेंद्र बताते हैं कि ट्रेलर रिलीज होने के बाद से ही उनका पूरा परिवार सदमे में हैं, क्योंकि फिल्म में उन्हें माफिया डॉन और एक खलनायिका बना दिया है.

गंगूबाई की नातिन ने अपनी नानी के बारे में बताया कि उन्होंने कमाठीपुरा के चार बच्चों को गोद लिया था और भारती ने निर्माताओं पर निशाना साधा और दावा किया कि उन्होंने पैसे के लालच में परिवार को बदनाम किया है. भारती ने कहा, ‘निर्माताओं ने पैसे के लालच में मेरे परिवार को बदनाम किया है और इसे बिल्कुल भी एक्सेप्ट नहीं किया जा सकता. मेकर्स पर आरोप लगाते हुए उन्होंने यह भी कहा कि ना तो बुक लिखने से पहले और ना फिल्म बनाने से पहले हमारी परमिशन ली गई’.