चाइनीज कंपनी ने Flipkart, Amazon India, Snapdeal समेत कई ई-कॉमर्स कंपनियों के खिलाफ नकली प्रोडक्ट बेचने का लगाया आरोप

260

BOYA ब्रैंडनेम से वायरलेस माइक्रोफोन और दूसरी एसेसरीज बनाने और एक्सपोर्ट करने वाली चाइनीज कंपनी शेन्ज़ीन जिआयज फोटो इंडस्ट्रियल लिमिटेड ने दिल्ली हाईकोर्ट में कई इ-कॉमर्स कंपनियों के खिलाफ अपने प्रोडक्ट्स का नकली वर्जन बेचने का आरोप लगाते हुए याचिका दाखिल की है. चाइनीज कंपनी का आरोप है कि फ्लिपकार्ट, एमेजॉन इंडिया, पेटीएम इंडिया, टाटा क्लिक और स्नैपडील ने उसके प्रोडक्ट्स के नकली वर्जन की बिक्री की है.

चाइनीज कंपनी ने कई ई-कॉमर्स कंपनियों और उनके सेलर सहित 46 लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज की है. दायर याचिका के अनुसार, ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म बोया के नकली प्रोडक्ट बेचकर ग्राहकों को धोखा दे रहे हैं. कंपनी का कहना है कि कई ग्राहकों से शिकायतें मिली हैं जिससे कंपनी की विश्वसनीयता और प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचा है.

इस मामले की पहली सुनवाई पिछले हफ्ते दिल्ली हाईकोर्ट में हुई थी जिसके दौरान एक अंतरिम आदेश पारित किया गया था. जिसमें सेलर्स को इन प्रोडक्ट को इन ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर बेचने से रोक लगाई गई है.

ग्राहकों की शिकायत पर शेन्ज़ेन जियाज़, ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म और उनके सेलर्स के जरिए बेंचे गए नकली प्रोडक्ट का आकलन कर रही है, जिसमें समान सीरियल नंबर वाले प्रोडक्ट थे. बोया के वकील ने कहा, “हमने मामले पर दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है और आरोपी ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म से इन 42 विक्रेताओं को तत्काल हटाने के लिए कहा है.”

स्नैपडील ने भी इस मामले पर अपनी सफाई जारी करते हुए कहा है कि उसने अदालत के आदेश का पालन करते हुए नकली माल बेचने के आरोपी सेलर्स को लिस्ट से बाहर कर दिया है. स्नैपडील की नकली सामान के खिलाफ कठोर पॉलिसी है और वो उसका कड़ाई से पालन करती है. हालांकि इस मुद्दे पर एमेजॉन इंडिया और पेटीएम मॉल की तरफ से कोई जवाब नहीं आया है.