बिहार में नीतीश सरकार पर तेजस्वी का वार – बिहार में लूट-अपहरण की बहार, अपराधियों को ‘महाजंगलराज के महाराजा’ का संरक्षण

437

बिहार में नई सरकार का कामकाज शुरू हो गया है और विपक्ष का नीतीश सरकार पर हमला करना भी जारी है. राष्ट्रीय जनता दल के नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने बुधवार को कानून व्यवस्था के मसले पर बिहार सरकार को घेरा. तेजस्वी ने आरोप लगाया कि बिहार में लूट और अपहरण की बहार है.

तेजस्वी यादव ने अपने ट्वीट में लिखा कि बिहार में लूट, अपहरण और हत्या की बहार है क्योंकि अपराधियों को महाजंगलराज के महाराजा का संरक्षण प्राप्त है.

राजद नेता ने अपने ट्विटर पर बिहार में हुए अपराधों की अलग-अलग खबरों को साझा किया और अखबार की कटिंग डाली. तेजस्वी यादव ने जिन मुद्दों को उठाया है, उनमें खगड़िया में पंच पति की हत्या के अलावा लूट, धमकी और चोरी की खबरों को लेकर सरकार पर निशाना साधा है.

इससे पहले मंगलवार को भी तेजस्वी यादव ने जंगलराज का मसला उठाया था और पीएम मोदी को ट्वीट किया था. तब तेजस्वी ने अपने ट्वीट में लिखा था कि प्रधानमंत्री जी, चंद दिन पहले की चुनावी सभाओं में शायद आप इसी जंगलराज की कल्पना किया करते थे. बिहार में कानून व्यवस्था समाप्त हो अपराधियों का गुंडाराज स्थापित हो गया है. प्रतिदिन सैंकड़ों लोगों की हत्या हो रही है. लेकिन जंगलराज का महाराजा चुप है. क्यों?

गौरतलब है कि बिहार में चुनाव प्रचार के दौरान एनडीए की ओर से महागठबंधन पर कानून व्यवस्था को लेकर ही सवाल खड़े किए जाते थे. यही कारण है कि अब जब इस तरह की घटनाएं बिहार में हो रही हैं तो तेजस्वी फिर नीतीश सरकार के शासन को जंगलराज करार दे रहे हैं.

अभी कुछ दिन पहले ही बिहार के गोपालगंज में जदयू विधायक अमरेंद्र पांडेय के एक सहयोगी पर अज्ञात बदमाशों ने फायरिंग कर मौत के घाट उतार दिया था. इस मामले की पुलिस ने जांच शुरू की है, लेकिन राजनीतिक दलों ने ऐसी घटनाओं को लेकर नीतीश सरकार पर निशाना साधा था.