भूकंप के झटके से सहमा अफगानिस्तान

376

अफगानिस्तान में शनिवार को भूकंप के मध्यम गति के झटके महसूस किए गए. नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी (National Center for Seismology) के मुताबिक, रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 4.3 रही. भूकंप के ये झटके सुबह 10.17 बजे आए. भूकंप का केंद्र युद्धग्रस्त मुल्क के फैजाबाद के पूर्व में 145 किमी दूर रहा. अफगानिस्तान में आए भूकंप की वजह से अभी तक किसी भी तरह के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है.

वहीं, अगस्त में भी अफगानिस्तान में भूकंप के झटके महूसस किए गए थे. भारत के राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (NCS) ने बताया था कि रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 4.5 रही थी. स्थानीय समय के मुताबिक, भूकंप के ये झटके सुबह 9.52 बजे आए थे. NCS के मुताबिक, ये झटके अफगानिस्तान के बजारक के 38 किमी उत्तरपूर्व में महसूस किए गए. बजारक के पास भूकंप का केंद्र था और इसकी गहराई 92 किमी रही. बताया गया था कि भूकंप के केंद्र के आस-पास के इलाके में तेज झटके महसूस किए गए. मगर केंद्र से दूरी बढ़ने के साथ ही इसका असर कम होता चला गया.

2015 में 7.5 की तीव्रता वाले भूकंप की वजह से अफगानिस्तान में अलकाहदारी-ये किरण वान मुंजन में अपने केंद्र के साथ-साथ दक्षिण एशिया में इसका असर देखने को मिला था. भूकंप के कारण पाकिस्तान में कम से कम 399 लोगों की मौत हो गई थी. 2009 में अफगानिस्तान के बदख्शां में फैजाबाद में 6.2-तीव्रता का भूकंप आया था. जिसकी वजह से भूस्खलन हुआ और कम से कम 3 लोग मारे गए थे. फैजाबाद में एक हवाई अड्डा भी है जिसका इस्तेमाल अफगान वायु सेना करती है.