Deputy CM ब्रजेश पाठक बोले- बाहर की दवा लिखने वाले चिकित्सकों पर होगी कार्रवाई

290
Deputy cm Brajesh Pathak

उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि सभी अस्पतालों के प्रवेश द्वार पर मरीजों को व्हील चेयर व स्ट्रेचर की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। कहा, दवाओं की कमी नहीं होनी चाहिए। अस्पताल आने वाले सभी रोगियों को दवाएं अस्पताल से ही दी जाएं। अगर कोई भी चिकित्सक मरीजों को बाहर से दवा लाने के लिए लिखेगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वे एनआईसी भवन में टीकाकरण के संबंध में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी मंडलीय अपर निदेशक, सीएमओ, जिला प्रतिरक्षण अधिकारियों और सहयोगी संस्थाओं से मुखातिब थे।

उन्होंने कहा कि सभी अस्पतालों में जहां अल्ट्रासाउंड व एक्स-रे मशीन हैं, वे हरहाल में क्रियाशील रहें। सभी चिकित्सक व कर्मी समय से अस्पताल आना सुनिश्चित करें और निर्धारित अवधि तक ड्यूटी पर उपस्थित रहें। सभी चिकित्सक व कर्मचारी मरीजों से अच्छा व्यवहार करें।

उन्होंने मंडलीय अपर निदेशकों व सीएमओ को समय-समय पर चिकित्सालयों और सीएचसी-पीएचसी का निरीक्षण कर व्यवस्था पर निगरानी के निर्देश दिए। पाठक ने चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग को निर्देश दिया है कि सभी जिलों में 12 से 14 आयु वर्ग के बच्चों का स्कूलों में कैंप लगाकर कोविड टीकाकरण कराएं। दूसरी खुराक वाले लाभार्थियों का भी जल्द टीकाकरण सुनिश्चित करें।

सुनिश्चित करें ये व्यवस्थाएं
उपमुख्यमंत्री ने अस्पतालों में मरीजों व तीमारदारों के बैठने और शीतल व शुद्ध पेयजल की समुचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए। कहा, परिसर और शौचालय साफ-सुथरे रहें। निर्बाध विद्युत आपूर्ति की व्यवस्था हो और जरूरत पर जनरेटर क्रियाशील रहे। भर्ती मरीजों के बिस्तर साफ हों और नियमित रूप से चादर बदली जाए। परिसर में कूड़ेदान की उपयुक्त व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।