दिल्ली में पहले चरण में लगेगा 2 लाख से अधिक स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना का टीका, दिल्ली सरकार ने तैयार की लिस्ट

172

मार्केट में कोरोना वैक्सीन आने पर सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों को इसका टीका लगाया जाएगा. जानकारी के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी में पहले चरण में दो लाख से अधिक स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना का टीका लगाया जाएगा. इसके लिए दिल्ली सरकार ने 2 लाख स्वास्थ्यकर्मियोंं की लिस्ट तैयार कर ली है. कहा जा रहा है कि दिल्ली में वैक्सीन आने पर सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों को ही वैक्सीन दिया जाएगा. इसके बाद 60 से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिकों को कोरोना का टीका लगाया जाएगा.

सूत्रों के मुताबिक, पिछले महीने 13 नवंबर तक 1250 अस्पतालों (सरकारी व निजी), प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, नर्सिंग होम व निजी क्लिनिक संचालकों ने एक लाख 43 हजार 914 कर्मचारियों का डाटा स्वास्थ्य विभाग को सौंप दिया था. इसमें 558 अस्पतालों व नर्सिंग होम का डाटा शामिल नहीं है. ऐसे में स्वास्थ्य विभाग से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि दिल्ली में स्वास्थ्यकर्मियों की संख्या दो लाख से ज्यादा हो सकती है.

खास बात यह है कि स्वास्थ्य कर्मियों में सभी एलोपैथिक, दंत चिकित्सा, आयुष, फिजियोथेरेपी क्लीनिक, नैदानिक प्रयोगशालाओं, रेडियोलॉजी केंद्रों के कर्मचारी शामिल हैं. बताते चलें कि केंद्र सरकार ने अक्टूबर में ही सभी राज्यों से स्वास्थ्य कर्मियों का डाटा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया था. इसके बाद सभी राज्य स्वास्थ्यकर्मियों का डेटा तैयार करने में जुट गया था.

टीकाकरण शुरू होने पर केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार, नगर निगम सहित सभी एजेंसियों के स्वास्थ्य कर्मचारी शामिल होंगे. जिसमें डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल कर्मचारी, सफाई, सुरक्षा कर्मचारी, मेडिकल व नर्सिंग के छात्र, शोधकर्ता व फिल्ड स्वास्थ्य वर्कर हैं. जबकि दूसरे चरण में वरिष्ठ नागरिक और गंभीर रूप से बीमार लोगों को टीका लगाया जाएगा. इसमें 50 साल से अधिक उम्र वाले उन लोगों को भी शामिल किया जा सकता है. एक रिपोर्ट की माने तो दिल्ली में 60 साल से अधिक उम्र वाले लोगों की आबादी करीब 14 लाख 27 हजार है. वहीं, 50-59 साल की उम्र के लोगों की आबादी 14 लाख 68 हजार है.