अमेरिका में 24 घंटे में 80 हजार से ज्यादा नए मामले, एक हजार से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवाई

207

दुनिया में इस समय कोरोना वायरस संक्रमण का खतरनाक दौर चल रहा है। भारत में कोरोना की दूसरी लहर पहली लहर से बहुत ज्यादा खतरनाक है और संक्रमित मामले भी एक लाख से ज्यादा आ रहे हैं। बात करें दुनिया की तो अब अमेरिका में एक बार फिर कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं। 

शुक्रवार को 80 हजार से ज्यादा मामले आए सामने
शुक्रवार को अमेरिका में पिछले 24 घंटे में 80 हजार से ज्यादा मामले सामने और इस दौरान एक हजार से ज्यादा मरीजों की मौत हुई। इससे पहले 19 फरवरी को 80 हजार से ज्यादा नए मरीज मिले थे। इसके बाद से अमेरिका में नए संक्रमित मरीजों की संख्या घटने लगी। 

बताते चले कि पिछले एक हफ्ते के दौरान औसतन हर रोज 64,760 मामले सामने आए। अमेरिका में एक बार फिर कोरोना के बढ़ते मामलों पर विशेषज्ञों का कहना है कि अमेरिका में इस तरह से कोरोना के नए मरीजों का मिलना बेहद चिंताजनक है। इससे नई लहर का खतरा पैदा हो सकता है। 

अमेरिका में 34 फीसदी आबादी को वैक्सीन लग चुकी है
विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना वायरस के मामलों में कमी का मतलब यह ना समझें कि महामारी चली गई है। जानकारों का कहना है कि लापरवाही नई लहर को जन्म दे सकती है। हालांकि अमेरिका में कोरोना वैक्सीनेशन तेज गति से चल रहा है। अमेरिका में अबतक देश में 34 फीसदी आबादी को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है। 

अमेरिका में कोरोना से होने वाली मौतों को लेकर राहत है। पहले के मुकाबले अब अमेरिका में कोरोना वायरस से होने वाली मौतें कम हो रही हैं। सीडीसी के निदेशक डॉ. रोसेले वलेंस्की का कहना है कि अमेरिका में कोरोना से होने वाली मौत का आंकड़ा इसलिए कम हो गया है क्योंकि यहां वैक्सीनेशन तेज गति से चल रहा है। 

अमेरिका के शीर्ष संक्रामक रोग विशेषज्ञ एंथनी फौजी ने कहा कि कोरोना के बढ़ते हुए मामलों अब परेशान करने वाले स्तर पर पहुंच गए हैं। उन्होंने कहा कि देश में कोरोना को हराने के लिए टीकाकरण को और तेजी से बढ़ाने की जरूरत है।