कोरोना टीकाकरण: चार दिन में एक करोड़ को टीका देने के करीब पहुंचा भारत, एक दिन में 20 लाख से ज्यादा ने लोगो लगी वैक्सीन

527

देश चार दिन में एक करोड़ लोगों को वैक्सीन देने के करीब पहुंच चुका हैं। बृहस्पतिवार शाम तक देश में तीन करोड़ 90 लाख लोगों को वैक्सीन दिए जाने की जानकारी मिली है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, बुधवार को एक दिन में 20,78,719 लोगों ने टीका लगवाया।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अब तक देश में एक करोड़ से भी ज्यादा बुजुर्ग कोरोना का टीका लगवा चुके हैं। वहीं 45 से 59 वर्ष की आयु के पहले से बीमार 30 लाख लोगों को भी वैक्सीन दी जा चुकी है। पिछले चार दिन में सबसे ज्यादा टीकाकरण में भारत में हुआ। टीकाकरण के आंकड़ों को देखें तो अभी तक स्वास्थ्य कर्मचारी व फ्रंटलाइन वर्करों की एक बड़ी संख्या वैक्सीन लगवाने से दूर है।

देश में कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम शुरू हुए 61 दिन हो चुके हैं। इसके बाद भी अब तक 30 करोड़ के लक्ष्य को पूरा करने की दिशा में महज 10 फीसदी ही कामयाबी मिली है। देश में जल्द से जल्द टीकाकरण पूरा करने के लिए हर दिन 30 लाख से अधिक को टीका दिए जाना जरूरी है।

देश में 14 माह बाद कोरोना वायरस की जांच का आंकड़ा 23 करोड़ पार हो चुका है। पिछले वर्ष 17 जनवरी से एक ही लैब में वायरस की जांच शुरू हुई थी उस दौरान पुणे स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वॉयरोलॉजी की लैब में आरटी-पीसीआर तकनीक के जरिए जांच हो रही थी लेकिन अब इनकी संख्या बढ़कर 2,420 हो चुकी है।

आईसीएमआर ने बताया कि पिछले एक दिन में 10 लाख सैंपल की जांच के साथ ही कुल आंकड़ा 23 करोड़ पार हुआ है। अभी देश में 10 लाख की आबादी 771 लोगों की रोजाना जांच हो रही है जिनमें से 3.37 फीसदी संक्रमित मिले हैं। वहीं अब तक की स्थिति देखें तो वायरस की संक्रमण दर 4.98 फीसदी तक पहुंच गई है। अभी देश में 1,386 लैब ऐसी हैं जहां कोरोना वायरस की जांच आरटी-पीसीआर के जरिए हो रही है।