2000 के नोटों का सर्कुलेशन बंद होने पर कांग्रेस का तंज, कहा- पहले कदम उठा लो फिर उस पर विचार करो..

187

दो हजार रुपये के नोट बंद करने पर कांग्रेस ने भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर कड़ा प्रहार किया है। कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश रिजर्व बैंक के फैसले के खिलाफ कहा कि यह मोदी सरकार का खास तरीका है कि पहले कदम उठा लो और फिर उस पर विचार करो।

नोटबंदी ने पूरा कर लिया अपना चक्र

जयराम रमेश ने शुक्रवार को ट्वीट करके कहा, ‘स्वयंभू विश्वगुरू का अपना ठेठ तरीका है, पहले कदम उठा लो, फिर विचार करो। दो हजार रुपये के नोट जो एक तुगलकी फरमान के जरिये 8 नवंबर, 2016 को ऐसे ही धूमधाम से लाए गए थे, अब वापस लिए जा रहे हैं।’ बैंकों को तत्काल प्रभाव से दो हजार रुपये के नोटों को जारी करने से मना किया गया है। पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने इसे एक प्रत्याशित कदम बताते हुए कहा कि अब नोटबंदी ने अपना चक्र पूरा कर लिया है।

दो हजार के नोट वापस लेने की थी उम्मीद

चिदंबरम ने ट्वीट करके कहा कि ऐसी उम्मीद थी कि सरकार या आरबीआइ दो हजार के नोट वापस ले लेगी। नोट बदलने के लिए 30 सितंबर तक का समय दिया गया है। हमने पहले ही कहा था कि दो हजार के नोट अधिक प्रचलित नहीं हैं और हमारी बात सही साबित हुई है। 500 और 1000 के नोट बंद करने के सरकार के बेवकूफी भरे फैसले पर दो हजार के नोट लाना बैंडएड लगाने जैसा था। नोटबंदी के कुछ ही हफ्तों बाद सरकार को मजबूर होकर 500 रुपये के नोट शुरू करने पड़े थे। मुझे आश्चर्य नहीं होगा अगर सरकार फिर से एक हजार रुपये के नोट शुरू कर दे। इसीलिए नोटबंदी ने अपना चक्र पूरा कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here