कोरोना के बढ़ते केस ने बढ़ाई सरकार की चिंता, आपात बैठक के बाद CM केजरीवाल ने कहा- दिल्ली में लाॅकडाउन फिलहाल नहीं

    301
    CM Kejriwal Meeting on Omicron

    दिल्ली-एनसीआर में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ कई वरिष्ठ अधिकारियों की एक आपात बैठक बुलाई। इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन व अन्य अधिकारी मौजूद रहे। कोरोना के बढ़ते केस की समीक्षा के बाद सीएम केजरीवाल ने यह निर्णय लिया कि फिलहाल दिल्ली में लॉकडाउन नहीं लगेगा। वहीं बैठक से पहले यह अंदेशा जताया जा रहा था कि जिस तेजी से कोरोना बढ़ रहा है इस कारण सरकार कुछ सख्त फैसले ले सकती है।

    दिल्ली में कोरोना की चौथी लहर है। हालांकि यह भी बताया गया कि तीसरी लहर से ये लहर कमजोर है। वहीं, दिल्ली में लॉकडाउन नहीं लगेगा। अगर आगे कभी जरूरत पड़ी तो जनता से बात कर इस बारे में फैसला लिया जाएगा। सभी ने जनता से अपील कि है कि मास्क जरूर लगाएं। शारीरिक दूरी का खास ख्याल जरूर रखें। दिल्ली में युद्ध स्तर पर कोरोना टीकाकरण की जरूरत है। केंद्र से मांग की कि स्कूलों और सामुदायिक भवनों में भी इसके लिए अनुमति दी जाए। 45 साल से ऊपर उम्र वाले ही नही, सभी के लिए यह सुविधा शुरू की जाए।

    बता दें कि दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से कोविड-19 के केसों में काफी तेजी दर्ज की गई है। हालांकि इसके कारण में जब गौर करेंगे तो देखेंगे कि लोग सरकार के समझाने के बावजूद लापरवाही बरत रहे हैं। ना ही लोग मास्क का इस्तेमाल कर रह हैं और ना ही शारीरिक दूरी का खास ख्याल रखा जा रहा है। कोरोना के केस की बात की जाए तो गुरुवार को 2,790 नए दर्ज किए गए हैं। यह 114 दिन के बाद सबसे अधिक है। कोरोना संक्रमितों के आंकड़ों की बात की जाए तो पिछले साल आठ दिसंबर को 3,188 नए केस 24 घंटे में सामने आए थे। लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के कारण संक्रमण दर भी तेजी से बढ़ रहा है यह 2.71 फीसद से बढ़कर 3.57 फीसद हो गया है। वहीं, 1,121 मरीज ठीक हुए हैं। मौत की बात की जाए तो नौ मरीजों की मौत हो गई है।