चीन में कहर बरपा रहा कोरोना का डेल्टा वेरिएंट – दलियान शहर में ‘कैद’ किए गए 1500 छात्र

535
china corona
china corona

चीन में अब तक का सबसे बड़ा कोरोना वायरस संकट देखने को मिल रहा है. पहले चीन ने महामारी की शुरुआत में संक्रमण को जल्द ही नियंत्रित कर लिया था लेकिन इस बार वो ऐसा कर पाने में नाकाम हो रहा है. यहां के उत्तरपूर्वी शहर दलियान में डेल्टा वेरिएंट के मामले बड़ी संख्या में सामने आ रहे हैं. जिसके बाद शहर की यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले करीब 1500 छात्रों को उनके हॉस्टल्स में कैद कर दिया गया है. ये आदेश शहर की झुआंगे यूनिवर्सिटी में कई दर्जन मामले सामने आने के बाद रविवार को जारी हुआ.

सैकड़ों छात्रों को निगरानी के लिए होटलों में स्थानांतरित कर दिया गया है. अब छात्र डिजिटल तरीके से अपनी क्लास ले रहे हैं. उनके कमरों तक ही खाना भी पहुंचाया जा रहा है (Delta Variant in China News). कई इलाकों में इस शहर से आने वाले लोगों को प्रवेश नहीं मिल रहा. बीते एक हफ्ते से देश के किसी भी हिस्से के मुकाबले सबसे ज्यादा मामले दलियान से ही सामने आ रहे हैं. समाचार एजेंसी रॉयटर्न ने आधिकारिक आंकड़ों के आधार पर बताया है कि 17 अक्टूबर और 14 नवंबर के बीच यहां कुल 1,308 मामलें की पुष्टि हुई है. ये संख्या गर्मियों में मिले 1,280 स्थानीय मामलों को भी पार कर चुकी है. चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने सोमवार को पिछले 24 घंटों में स्थानीय संक्रमण के 32 नए मामले मिलने की जानकारी दी है, जिनमें से 25 दलियान से सामने आए हैं.

21 प्रांतों में फैला है डेल्टा वेरिएंट
इससे पता चलता है कि चीन अब तक के सबसे बड़े डेल्टा वेरिएंट के कहर का सामना कर रहा है. ये वेरिएंट देश के 21 प्रांतों में फैल गया है. चीन की सरकार कोविड के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति अपना रही है. रिपोर्ट्स बताती हैं कि कई प्रातों में संक्रमण को नियंत्रित कर लिया गया है चीनी सरकार बचाव के तौर पर कई उपाय अपना रही है. जिसमें लॉकडाउन, कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग, जोखिम भरे इलाकों में कई राउंड की टेस्टिंग, मनोरंजन से जुड़े स्थानों को बंद करना, सार्वजिनक वाहनों पर रोक और पर्यटन को प्रतिबंधित करना शामिल है.

आधी से ज्यादा आबादी का हुआ टीकाकरण
हालात ऐसे वक्त में बिगड़ रहे हैं, जब देश की आधी से ज्यादा आबादी का कोविड टीकाकरण पूरा हो गया है. सरकार बूस्टर डोज लगाने पर भी विचार कर रही है. ऐसी भी रिपोर्ट्स हैं कि सरकार कोरोना संक्रमित लोगों के पालतू जानवरों को मरवा रही है. इसकी काफी लोग ऑनलाइन शिकायत कर रहे हैं (China Battles Delta Variant). चीन के जानवरों की रक्षा से जुड़े एक एनजीओ ने कहा है, ‘पालतू जानवर लोगों के आध्यात्मिक पार्टनर हैं और उन्हें महामारी से लड़ने के बहाने नुकसान नहीं पहुंचाया जाना चाहिए. अगर आप अपनी रक्षा करने के लिए एक निर्दोष जीव के साथ अन्याय करते हैं, तो आप मानवता की बात कैसे कर सकते हैं?’