China Defence Budget: भारत व अमेरिका के साथ तनाव के बीच चीन ने बढ़ाया रक्षा बजट, 6.8 फीसदी का किया इजाफा

699
china
china

भारत और अमेरिका के साथ तनाव के बीच चीन ने अपना रक्षा बजट बढ़ा दिया है। ड्रैगन ने साल 2021 के लिए रक्षा बजट में 6.8 फीसद का इजाफा किया है। इसके साथ ही अब उसका आधिकारिक रक्षा बजट 209 अरब डॉलर का हो गया है। बजट की बढ़ोतरी की घोषणा चीन के प्रधानमंत्री ली केकियांग ने देश की संसद,नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (NPC) में की। बता दें कि चीन ने यह कदम ऐसे समय में उठाया है जब पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रही है। इस संकटकाल में भी वह एलएसी से लेकर दक्षिण चीन सागर में दादागीरी दिखा रहा है।

रक्षा बजट में वृद्धि का बचाव करते हुए एनपीसी के प्रवक्ता झांग यसुई ने यहां मीडिया से कहा कि चीन की कोशिश राष्ट्रीय रक्षा को मजबूत करने की है। किसी भी देश को निशाना बनाने या खतरा उत्पन्न करने की नहीं है। कोई देश दूसरों के लिए खतरा बनता है, यह इस बात पर निर्भर करता है कि वह किस प्रकार की रक्षा नीति अपनाता है। उन्होंने कहा कि चीन शांतिपूर्ण विकास के मार्ग के लिए प्रतिबद्ध है और प्रकृति में रक्षात्मक रक्षा नीति का पालन करता है।

ग्लोबल टाइम्स के अनुसार पिछले साल, चीन ने 1.268 ट्रिलियन युआन (लगभग 196.44 बिलियन यूएस डॉलर) आवंटित किया था। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के वार्षिक रक्षा बजट में लगातार छठे साल वृद्धि दर्ज की गई। इस साल की योजनाबद्ध रक्षा खर्च लगभग 1.35 ट्रिलियन युआन (लगभग 209 बिलियन यूएस डॉलर) होगा।

समाचार एजेंसी पीटीआइ के अनुसार दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था और सबसे अधिक आबादी वाले देश के रूप में, 2021 में चीन का प्रति व्यक्ति रक्षा खर्च 1,000 युआन (154 यूएस डॉलर) से कम होगा। चीन का रक्षा बजट अमेरिकी के रक्षा बजट का लगभग एक चौथाई है, जो 2021 के वित्तीय वर्ष के लिए 740.5 बिलियन यूएस डॉलर है।