छत्तीसगढ़-तेलंगाना बॉर्डर पर मुठभेड़, सुरक्षाबलों ने 6 नक्सलियों को किया ढेर

    189
    Chattisgarh-encounter

    तेलंगाना और छत्तीसगढ़ सीमा पर सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई है, जिसमें 6 नक्सली मारे गए. तेलंगाना के ग्रेहाउंड के जवान ऑपरेशन के लिए निकले थे, जिसके बाद उनकी नक्सलियों से मुठभेड़ हो गई. एनकाउंटर स्थल से 6 नक्सलियों के शवों के अलावा कई हथियार भी बरामद किए गए हैं. यह ऑपरेशन तेलंगाना के कोत्तागुड़म एसपी सुनील दत्त की अगुआई में चलाया गया था. मौके पर लगातार सर्च ऑपरेशन जारी है.

    किस्तराम पीएस की सीमा के जंगलों में यह एनकाउंटर हुआ. एसपी सुनील दत्त ने कहा कि यह तेलंगाना पुलिस, छत्तीसगढ़ पुलिस और सीआरपीएफ का जॉइंट ऑपरेशन था. सुबह 10.30 बजे तक यह ऑपरेशन जारी था और पुलिस की टीमें लगातार इस स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं.

    पुलिस ने आगे बताया कि तेलंगाना ग्रेहाउंड्स और नक्सलियों के बीच यह एनकाउंटर चल रहा है. छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में दो आईईडी मिलने के बाद यह एनकाउंटर हुआ है. जिले में सुरक्षाबलों को टारगेट करने के लिए यह आईईडी प्लांट किए गए थे. रिपोर्ट के मुताबिक नक्सली सुरक्षाबलों को आईईडी से निशाना इसलिए बना रहे हैं क्योंकि वे बस्तर और अबुजमद इलाके में स्थानीय लोगों का समर्थन खो रहे हैं. पिछले कुछ महीनों में जिले के नक्सल प्रभावित इलाकों में तलाशी अभियान तेज कर दिया गया है.

    इससे पहले बीते गुरुवार को झारखंड के चाईबासा जिले में पुलिस ने पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट आफ इंडिया (पीएलएफआई) के ‘एरिया कमांडर’ बंधना टोपनो को हथियार व गोला-बारूद के साथ सोगा पहाड़ी के जंगल से धर दबोचा था.

    पुलिस सूत्रों ने इस गिरफ्तारी के बारे में बताया था कि यह कार्रवाई एक गुप्त सूचना के आधार पर की गई थी. उन्होंने बताया था कि इस कार्रवाई में नक्सल कमांडर के साथ उसके कुछ साथियों का भी पीछा किया गया लेकिन वे मौके से फरार हो गए थे. गिरफ्तार नक्सल कमांडर के खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. गिरफ्तार नक्सली के पास से पुलिस ने एक राइफल, गोलियां व अन्य गोला-बारूद बरामद किए थे.