जितिन प्रसाद ने कहा – बंगाल में भाजपा और टीएमसी अहं की लड़ाई में व्यस्त

188

कांग्रेस के पश्चिम बंगाल प्रभारी जितिन प्रसाद ने कहा कि जहां भाजपा और टीएमसी अहं की लड़ाई में व्यस्त हैं, वहीं कांग्रेस और वाम गठबंधन बंगाल की पहचान के लिए लड़ रहा है।

कांग्रेस जल्द सीट बंटवारे को लेकर वाम दलों के साथ समझौता करने को लेकर ध्यान केंद्रित कर रही है। प्रसाद ने पार्टी की राज्य इकाई और कांग्रेस मिलकर काम कर रही है और दिल्ली से कोई भी फैसला नहीं लिया जा रहा है। जो भी पार्टी के हित में होगा, वह हितधारकों को भरोसे में लेकर किया जाएगा। 

प्रसाद ने कहा, पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव केंद्र सरकार के प्रदर्शन और राज्य के लिए काम पर होना चाहिए। साथ ही यह टीएमसी के रिपोर्ट कार्ड पर लड़ना चाहिए, लेकिन दुखद है कि दोनों ही दल अहं की लड़ाई लड़ रहे हैं।

केंद्र व राज्य के बीच गतिरोध की वजह से कई योजनाओं का लाभ जनता को नहीं मिल रहा। भाजपा और टीएमसी असली मुद्दों से ध्यान भटकाना चाहती हैं क्योंकि वे अपनी अपनी सरकारों की नाकामियों को छिपाना चाहते हैं। दोनों दल मीडिया की ताकत का इस्तेमाल कर रही हैं और बंगाल की पहचान व संस्कृति को धीरे धीरे नष्ट किया जा रहा है।

प्रसाद ने कहा, कांग्रेस और वाम दल बंगाल के लोगों को विकल्प मुहैया कराएंगे। कांग्रेस और वाम गठबंधन द्वारा मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित करने के सवाल पर प्रसाद ने कहा कि इस मुद्दे पर चर्चा हो रही है लेकिन पहली प्राथमिकता सीटों का बंटवारा और संयुक्त प्रचार अभियान शुरू करने को लेकर है।

उन्होंने रेखांकित किया कि कांग्रेस-वाम गठबंधन का पश्चिम बंगाल के लोगों से गहरा संबंध है। प्रसाद ने कहा कि रोजी-रोटी का मुद्दा पीछे चला गया है जिसे उनका गठबंधन सामने लाएगा।