जनता का फैसला ईवीएम में बंद, बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने का अनुमान

326

बिहार विधानसभा चुनाव में शनिवार को तीसरे और आखिरी चरण में छिटपुट हिंसा के बीच 57 फीसदी से ज्यादा मतदान हुआ। तीसरे चरण की 78 सीटों पर मतदान खत्म होने के साथ ही 1204 उम्मीदवारों की किस्मत इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में कैद हो गई। इसमें विधानसभा अध्यक्ष के साथ ही 12 मंत्री भी चुनावी मैदान में हैं।

243 सदस्यीय बिहार विधानसभा के लिए नतीजों का एलान 10 नवंबर को होगा। इससे पहले कई चैनलों के एग्जिट पोल में एनडीए और राजद की अगुवाई वाले महागठबंधन के बीच कांटे की टक्कर बताई जा रही है। बहुमत के लिए किसी भी दल को 122 सीट चाहिए।
 बिहार के इंचार्ज उप चुनाव आयुक्त चंद्र भूषण कुमार ने बताया, शाम छह बजे तक 57.58 फीसदी वोट पड़े। हालांकि इसमें बढ़ोतरी हो सकती है।
वहीं, पूर्णिया के सरसी में अज्ञात हमलावरों ने राजद नेता बिट्टू सिंह के भाई बेनी सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी। बेनी वोट डालने पोलिंग बूथ गए थे, जहां हमलावरों ने उन्हें गोली मार दी। पूर्णिया के हीसतकोदरिया पंचायत के अलीनगर स्थित बूथ पर मतदाताओं और ड्यूटी पर तैनात जवानों के बीच झड़प हो गई। जवाब में जवानों को फायरिंग करनी पड़ी।

वहीं, कटिहार में सुरक्षाबलों को भीड़ काबू करने के लिए हल्का बल प्रयोग करना पड़ा, जिसमें कई मतदाता जख्मी हो गए। 

पूर्णिया में जवानों ने सामाजिक दूरी का पालन करने को कहा तो लोगों ने पीटा
तीसरे दौर की वोटिंग के बीच पूर्णिया में सीआईएसएफ जवानों ने लोगों को सामाजिक दूरी का पालन करने के लिए कहा तो लोगों ने उन्हें घेरकर पीटा। बचाव में जवानों ने वाई फायरिंग करनी पड़ी। बाद में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया। वहीं, सुपौल और मुजफ्फरपुर में मतदानकर्मी की मौत हो गई।

एग्जिट पोल
टाइम्स नाउ-सी वोटर-
एनडीए-116
महागठबंधन-120
लोजपा-01
अन्य-06

न्यूज एक्स-डीवी रिसर्च
एनडीए-110-117
महागठबंधन-108-123
लोजपा-04-10
अन्य-08-23

न्यूज 18-टुडेज चाणक्य
एनडीए-55
महागठबंधन-180
लोजपा-00
अन्य-08

इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया
एनडीए- 69-91    
महागठबंधन-139-161
भाजपा- 38-50
अन्य- 6-10 

वोट शेयर में एनडीए आगे
एबीपी-सीवोटर का अनुमान है कि राजग को सर्वाधिक 37.7 फीसदी जबकि महागठबंधन को 36.3 फीसदी जबकि अन्य को 26 फीसदी वोट मिले हैं। वहीं इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया पोल के नतीजे बताते हैं कि अगले मुख्यमंत्री के तौर पर 44 फीसदी मतदाता तेजस्वी यादव को देखना चाहते हैं जबकि 35 फीसदी लोगों ने नीतीश कुमार को पसंद किया है। इसके अनुसार महागठबंधन को 44 फीसदी और राजग को 39 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है। 

पिछले चुनाव में भी राजद थी आगे 
2015 में हुए चुनाव में भाजपा 80 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी। इस चुनाव में उसे 18 फीसदी वोट मिले थे जबकि जदयू 11 फीसदी वोट शेयर के साथ 71 सीटों पर जीती थी। वहीं भाजपा ने सर्वाधिक 24 फीसदी वोट शेयर पाने के बावजूद 53 सीटों पर ही जीत दर्ज कराई थी। उस समय जदयू और राजद ने मिलकर सरकार बनाई थी। 

यूपी उपचुनाव में भाजपा आगे 
उत्तर प्रदेश की आठ सीटों पर 3 नवंबर को हुए उपचुनाव में एग्जिट पोल के नतीजों ने भाजपा को आगे रखा है। पोल के मुताबिक भाजपा को 5 से 6 सीटें, सपा को 1 से 2 सीटें और बसपा को शून्य से एक सीट मिलने का अनुमान है। मध्य प्रदेश में एग्जिट पोल के नतीजों के अनुसार सरकार बची रह सकती है। यहां 28 सीटों पर हुए उपचुनाव में भाजपा को 16 से 18 सीटें और कांग्रेस को 10 से 12 सीटें मिलती दिख रही हैं। वहीं गुजरात की आठ सीटों के उपचुनाव में भी भाजपा 6-7 सीटों के साथ आगे है। दोनों राज्यों में भाजपा की सरकार है।