लालू के घर में तनातनी बरक़रार – नाराज़ तेज प्रताप बोले- जो भी कृष्ण के सामने आएगा, शिशुपाल की तरह मारा जाएगा

241

आरजेडी (RJD) अध्यक्ष लालू यादव के बेटों के बीच इन दिनों सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. खुद को कृष्ण कहने वाले लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव इन दिनों पार्टी से नाराज चल रहे हैं. पिछले दिनों तेज प्रताप (Tej Pratap Yadav) को छोटे भाई से भी नहीं मिलने दिया गया था. इस बात ये भी वह काफी नाराज हैं. भाई से नहीं मिलने देने पर तेज प्रताप यादव ने कहा कि जो भी कृष्ण के सामने आएगा उसका शिशुपाल की तरह वध कर दिया जाएगा.

वहीं तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने अपने बड़े भाई को अनुशासन में रहने की नसीहत दी है. बिहार प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद के एक बयान के बाद से लालू के घर में जंग छिड़ गई है. पिछले दिनों जगदानंद (Jagadanand Singh) ने कहा था कि तेज प्रताप कौन हैं वह नहीं जानते. इस बयान पर वह काफी भड़के हुए हैं. तेज प्रताप लगातार जगदानंद के खिलाफ कार्रवाई की मांग पर अड़े हैं.

तेजस्वी से न मिलने देने से खफा तेज प्रताप
जगदानंद, शिवानंद तिवारी और संजय यादव इन दिनों तेज प्रताप की आंखों का कांटा बने हुए हैं. तेजस्वी से न मिलने देने का आरोप उन्होंने संजय यादव पर ही लगाया था. उनका कहना है कि संजय ने उन्हे तेजस्वी से नहीं मिलने दिया. बता दें कि संजय तेजस्वी के सलाहकार और दोस्त हैं. कहा जाता है कि तेजस्वी हर काम उनके इशारे पर ही करते हैं. जब से आकाश यादव को आरजेडी छात्र अध्यक्ष पद से हटाया गया है, लालू का घर महाभारत का अखाड़ा बन गया है.

दरअसल जगदानंद ने तेजस्वी से सलाह के बाद आकाश को पद से हटा दिया था. इस बात ये तेज प्रताप काफी खफा हैं.
वहीं नीतीश कुमार के करीब जाना भी तेज प्रताप को खास पसंद नहीं है. दरअसल लालू यादव की खराब तबीयत और कानूनी शिकंजा कसा होने की वजह से पार्टी से उनकी कमान ढीली होती जा रही है, इस बात का असर उनके बेटों के बीच साफ देखा जा सकता है.

लालू का घर बना महाभारत का अखाड़ा
एक समय था जब लालू यादव का फैसला ही पार्टी में आखिरी और सर्वमान्य होता था. चाहे राबड़ी देवी को सीएम बनाना हो या तेजस्वी तो बिहार का डिप्टी सीएम बनाना या फिर मीसा को राजनीति से हटाने का फैसला. लालू यादव ने इन सभी फैसलों को अपने तरीके से ही लिया. लेकिन अब एक बार फिर से आरजेडी के साथ ही उनके परिवार में भी दरार आती दिख रही है. अब बड़े और छोटे भाई के बीच काफी तनातनी देखने को मिल रही है.