IPO मार्केट में बड़े खिलाड़ी साबित हो रहे खुदरा निवेशक, 40 नई कंपियों के शेयर हुए लिस्ट

199

आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) को लेकर सबसे अधिक दिलचस्पी खुदरा निवेशक दिखा रहे हैं. आईपीओ में हिस्सा लेने के लिए आवेदनों की बढ़ती संख्या और रिकॉर्ड अभिदान से दलाल स्ट्रीट पर नयी कंपनियों की सूचीबद्धता तेजी से बढ़ रही है.

वही शेयर बाजार में लाखों खुदरा निवेशक पूंजी बाजार में आ रहे हैं और आईपीओ में शामिल हो रहे हैं. विशेषज्ञों का मानना है कि खुदरा क्षेत्र से इतने अधिक आईपीओ आवेदन कभी नहीं मिले हैं. कुछ आईपीओ को तो 30 लाख से अधिक आवेदन मिले हैं और आपूर्ति की तुलना में मांग 100 गुना अधिक रही है.

शेयर बाजार में खुदरा निवेशकों की उमड़ी भीड़ से एनएसई-में सूचीबद्ध कंपनियों में उनकी कुल हिस्सेदारी जून तिमाही में 7.18 प्रतिशत के सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गई है. इस साल शेयर बाजार में अब तक कम से कम 40 नयी कंपनियों के शेयर सूचीबद्ध हुए हैं. इन कंपनियों ने लगभग 68,000 करोड़ रुपये जुटाए हैं.

सप्ताह के तीसरे कारोबारी दिन यानी बुधवार को शेयर बाजार हरे निशान पर खुला और सेंसेक्स ने पहली बार 56 हजार के स्तर को छू लिया. शुरुआती कारोबार के दौरान 30 शेयरों का बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 312.44 प्वाइंट बढ़ कर 56,104.71 पर पहुंच गया. बुधवार को बीएसई पर लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 2,42,08,041.64 करोड़ यानी 242 लाख करोड़ रुपये हो गया.

टेगा इंडस्ट्रीज ने अपने प्रस्तावित आईपीओ के लिए सेबी में पेपर दाखिल कर दिए हैं. सूत्रों के मुताबिक, यह आईपीओ 700 से 750 करोड़ रुपये का हो सकता है. इस आईपीओ के तहत आने वाला 1,36,69,478 इक्विटी शेयर का पब्लिक ऑफर पूरी तरह से ऑफर फॉर सेल होगा. जिसमें शेयर होल्डर्स अपनी हिस्सेदारी की बिक्री करेंगे. इस ऑफर के तहत कंपनी के प्रमोटर मदन मोहन मोहनका 33,14,657 इक्विटी शेयर और मनीष मोहनका 6,62,931 इक्विटी शेयर बेचेंगे.