Bhai Dooj 2021: पीएम मोदी और अमित शाह ने देशवासियों को दी भाई दूज की शुभकामनाएं

    351
    Pm Modi wishes on Christmas

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को भाई दूज के मौके पर देशवासियों को शुभकामनाएं दीं. प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, ‘भाई दूज के पावन अवसर पर सभी को शुभकामनाएं.’भाई-बहन के प्यार का प्रतीक पर्व भाई दूज आज पूरे देश में मनाया जा रहा है.इस दिन, बहनें अपने भाइयों के लिए टीका समारोह करके उनके लंबे और सुखी जीवन की प्रार्थना करती हैं और भाई अपनी बहनों को उपहार देते हैं.

    भैया दूज को भाऊ बीज और भथरू द्वितीया के नाम से भी जाना जाता है. हिंदू परंपराओं के अनुसार, ऐसा माना जाता है कि देवी यमुना ने अपने भाई यमराज को कार्तिक द्वितीया को अपने घर पर खिलाया था. तभी से इस दिन को यम द्वितीया के नाम से जाना जाता है.इसी बीच गृहमंत्री अमित शाह ने भी ट्वीट कर देशवासियों को बधाई दी. उन्होंने कहा, समस्त देशवासियों को “भाई दूज” के पावन पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं.

    ऐसे हुई थी भाई-दूज की शुरूआत
    पौराणिक मान्यताओं अनुसार यमुना के अनेकों बार अपने घर बुलाने के बाद यमराज इस दिन उनके घर गए थे. अपने भाई के आने की खुशी में यमुना ने यमराज को तरह-तरह के पकवानों का भोजन कराया और तिलक लगाकर उनके खुशहाल जीवन की कामना की. प्रसन्न होकर यमराज ने यमुना से कोई वरदान मांगने को कहा तो ऐसे में यमुना ने कहा कि आप हर साल इसी दिन यानी कार्तिक शुक्ल पक्ष की द्वितीया को मेरे घर आना और जो बहन इस दिन अपने भाई को तिलक करेगी उसे तुम्हारा भय नहीं रहेगा. कहते हैं तभी से भाई दूज की शुरुआत हुई.

    कैसे मनाते हैं भाई-दूज
    बहनें इस दिन सूर्योदय से पहले उठकर स्नान करके साफ वस्त्र पहन लें. इसके बाद पूजा स्थल या फिर जहां आपको पूजा करनी हो उस स्थान को साफ कर लें. आपके जितने भी भाई हैं, जो आपसे दूर हैं उतने ही बाजार से गोले लेकर आएं. एक चौकी पर उन गोलों को भाई मानकर पीले रंग के वस्त्र पर स्थापित करें. गोलों को स्थापित करने के बाद चौकी पर अष्टदल कमल बनाएं. अगर ऐसा नहीं कर सकती हैं, तो गुलाब के फूल लेकर उस चावल रखें और उस पर गोले को स्थापित कर लें. इसके बाद गंगाजल मिश्रित जल रख लें और गोले को गंगाजल मिश्रित जल से स्नान कराएं और उस पर रोली और चावल से तिलक करके फूल चढ़ाएं.