‘बीटिंग द रिट्रीट’ समारोह का हुआ समापन, स्वदेशी ड्रोन से जगमगाया आसमान

    405
    Beating the Retreat ceremony
    Beating the Retreat ceremony

    गणतंत्र दिवस समारोह के समापन के प्रतीक के तौर पर दिल्ली के विजय चौक पर ‘बीटिंग द रिट्रीट’ समारोह की शुरुआत हुई. इस बार ‘बीटिंग द रिट्रीट’ समारोह बेहद खास है. दरअसल, इस बार पहली बार एक हजार स्वदेशी ड्रोन के जरिए आसमान को रंगीन किया गया. पहली बार यहां पर लेजर शो का आयोजन हुआ. इसके अलावा, मार्शल संगीत की धुनें इस साल समारोह का मुख्य आकर्षण रहे. भारतीय सेना, नौसेना, वायु सेना और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) के बैंड ने कुल 26 धुनों को बजाया.

    राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इस अवसर पर कार्यक्रम में मौजूद रहे. वर्तमान में लेजर शो का आयोजन खत्म चुका है. इस दौरान बैकग्राउंड म्यूजिक भी चलाया गया. इसके अलावा, एक स्टोरी के रूप में भारत द्वारा हासिल किए गए उपलब्धियों के बारे में बताया गया. वहीं, भारत के आजादी अमृत महोत्सव को लेकर भी बात की जा रही है. लेजर की मदद से ‘आजादी के अमृत महोत्सव 75 वर्ष’ को बनाया गया. वर्तमान में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति भवन की ओर बढ़ चले हैं.

    वहीं, केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने स्वदेशी ड्रोन को लेकर कहा, यह गर्व की बात है कि बीटिंग रिट्रीट समारोह के दौरान पहली बार 1000 ड्रोन आसमान में रोशनी करेंगे. ब्रिटेन, रूस और चीन के बाद भारत यह उपलब्धि हासिल करने वाला दुनिया का चौथा देश बन जाएगा. मुझे यह बताते हुए भी खुशी हो रही है कि इसके लिए संपूर्ण वित्त पोषण विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा किया गया था. IIT के पूर्व छात्रों ने 6 महीने तक इस (ड्रोन) पर काम किया है.

    इस साल देश में आजादी का अमृत महोत्सव भी मनाया जा रहा है. ऐसे में बीटिंग द रिट्रीट समारोह में कई सारी नई धुनों को जोड़ा गया. इन धुनों में ‘केरल’, ‘हिंद की सेना’ और ‘ऐ मेरे वतन के लोग’ शामिल रहे. वहीं, कार्यक्रम का समापन ‘सारे जहां से अच्छा…’ की लोकप्रिय धुन के साथ किया गया. वहीं, सभी की नजरें इस बार होने वाले ड्रोन शो पर टिकी रहीं. आजादी के 75 साल पूरे होने के अवसर पर इस बार ड्रोन शो को शामिल किया गया है.

    ड्रोन शो का आयोजन 1,000 स्वदेशी ड्रोन के साथ किया गया. इस दौरान ड्रोन के साथ एक बैकग्राउंड म्यूजिक भी बजाया गया. बीटिंग द रिट्रीट समारोह के समापन से ठीक पहले आजादी के 75 साल पूरा होने के अवसर पर प्रोजेक्शन मैपिंग शो का भी आयोजन हुआ. ये आयोजन तीन से चार मिनट तक चलेगा और शो को नॉर्थ और साउथ ब्लॉक की दीवारों पर प्रदर्शित किया गया. यहां गौर करने वाली बात ये है कि गणतंत्र दिवस परेड की तरह ही बीटिंग द रिट्रीट समारोह के लिए पर्यावरण के अनुकूल निमंत्रण पत्र तैयार किए गए हैं