ड्रैगन पर एंथनी ब्लिंकेन का हमला, कहा- अंतरराष्ट्रीय नियमों से चीन का खेलना बेहद खतरनाक

234

नव निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन ने सरकार गठन की तैयारियां शुरू कर दी हैं। उन्होंने अपने पुराने सहयोगी और विदेश नीति के सलाहकार एंथनी ब्लिंकेन को विदेश मंत्री के रूप में नामित किया है। इसके साथ ही ब्लिंकेन ने चीन पर पहला हमला बोला है।

उन्होंने कहा भारत अमेरिका तेजी से मुखर होते चीन के रूप में एक समान चुनौती का सामना कर रहे हैं। चीन अपनी आर्थिक ताकत के दम पर दूसरों को दबाना चाहता है। उसकी महत्वाकांक्षा दूसरों के लिए खतरा है।ब्लिंकेन ने कहा कि चीन अपने हितों का विस्तार करने के लिए अंतरराष्ट्रीय नियमों से खेल रहा है और बेबुनियाद सुमद्री और क्षेत्रीय दावे कर रहा है। इससे विश्व के कुछ अहम सागरों में नौवहन की स्वतंत्रता पर खतरा पैदा हुआ है।

बाइडन के प्रशासन में अमेरिका भारत के रिश्ते पर आयोजित एक डिजिटल पैनल चर्चा में ब्लिंकेन ने भारतीय मूल के लोगों से कहा कि हमारी साझा चुनौती तेजी से मुखर होते चीन से  निपटने की है। इसमें वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत के प्रति उसकी आक्रमकता शामिल है।

उन्होंने कहा चीन के साथ मजबूत स्थिति बनाए रखकर वार्ता करने के लिए नई दिल्ली को अमेरिका का एक अहम साझेदार होना चाहिए। ब्लिंकन ने आरोप लगाया कि राष्ट्रपति ट्रंप ने अमेरिकी गठबंधन को कमजोर कर चीन की महत्वपूर्ण रणनीतिक लक्ष्यों को आगे बढ़ाने में मदद की और दुनिया में शून्यता छोड़ी ताकि चीन उसे भर सके। साथ ही कहा ट्रंप ने अमेरिकी मूल्यों को छोड़ा और हांगकांग में लोकतंत्र को कुचलने के लिए हरी झंडी दिखाई।