इंडियन आइडल के मेकर्स पर भड़के अभ‍िजीत सावंत, बोले- ‘टैलेंट से ज्‍यादा गरीबी दिखाते हैं ये लोग’

1189

सिंगिंग रियलिटी शो इंडियन आइडल इन दिनों खूब चर्चा में बना हुआ है। एक ओर जहां शो के कंटेस्टेंट्स अपनी आवाज के जादू से जज और दर्शकों का दिल जीत रहे हैं तो वहीं कई बार शो के मेकर्स टीआरपी के लिए कुछ ऐसा कर बैठते है जिसकी वजह से उन्हें लोगों के गुस्से का शिकार होना पड़ता है। बीते दिनों किशोर कुमार के बेटे अमित कुमार बतौर मुख्यातिथि के रूप में आए थे। जिसके बाद से शो खूब विवादों में बना हुआ है। अमित ने शो प्रसारित हो जाने के बाद कई खुलासे किए थे और कहा था कि उन्हें यह एपिसोड बिल्कुल पसंद नहीं आया था। बस इसके बाद से तो लगातार बयानबाजी जारी है। अमित कुमार के बयान के बाद शो के होस्ट और उदित नारायण के बेटे आदित्य नारायण ने भी उनकी इस बात पर प्रतिक्रिया दी थी। इसी बीच शो के पहले सीजन के विजेता अभिजीत सावंत ने भी कई हैरान कर देने वाले खुलासे किए हैं और चर्चा में आ गए हैं।

दरअसल, अभिजीत ने एक इंटरव्यू के दौरान शो से संबंधित कुछ अहम खुलासे किए हैं। उन्होंने कहा, ‘आजकल रियलिटी शो के मेकर्स किसी प्रतिभागी के टैलेंट से ज्यादा इस बात पर ध्यान देते हैं कि वह कितना गरीब है।’ इतना ही नहीं अभिजीत सावंत ने आगे कहा, ‘अगर आप रीजनल रियलिटी शोज देखेंगे तो उनमें दर्शकों को शायद ही कंटेस्टेंट के बैकग्राउंड के बारे में पता होगा। वहां लोग सिर्फ सिंगिंग पर ध्यान देते हैं लेकिन हिंदी रियलिटी शोज में प्रतिभागियों की दुखभरी कहानियों को ज्यादा सुनाया जाता है।’

इसके अलावा अभिजीत ने इस बात पर भी नाराजगी जाहिर की कि अब शो में लव एंगल वाली बातें भी दिखाई जाने लगी हैं। यह तो सभी जानते हैं कि काफी समय से शो में अरुणिता कांजीलाल और पवनदीप राजन के बीच जमकर केमिस्ट्री दिखाई जा रही है। वहीं पिछले सीजन में भी नेहा कक्कड़ और आदित्य नारायण के बीच लव एंगल दिखाया गया था। वह तो अति ही हो गई थी जब दोनों ने नकली शादी का ढोंग किया था।

बीते कई दिनों से अमित कुमार के बयान के बाद से कई बयान सामने आ चुके हैं जिसमें अक्सर आदित्य नारायण शो का बचाव करते नजर आते हैं। अमित कुमार के नाराजगी जाहिर करने के बाद आदित्य ने कहा था कि ‘हां मैं जानता हूं एपिसोड को लेकर लोगों ने नाराजगी जाहिर की है। सच्चाई ये है कि कोई भी किशोर कुमार की तरह नहीं गा सकता। उनका व्यक्तित्व पहाड़ के जैसा ऊंचा था। आज की युवा पीढ़ी को उनके बारे में कुछ पता नहीं है। वो बस रूप तेरा मस्ताना’ और ‘आराधना’ के बारे में जानते हैं।’

गौरतलब है कि अमित कुमार के बयान ने काफी विवाद पैदा कर दिया था। उन्होंने कहा था, ‘मैंने वही किया जो मुझसे कहा गया था। मुझसे कहा गया सबकी तारीफ करनी है। मुझसे कहा गया जैसा भी गाएं उसको बढ़ावा देना है क्योंकि यह किशोर दा को ट्रिब्यूट है। मुझे लगा कि यह मेरे पिता को श्रद्धांजलि होगी। एक बार जब मैं वहां गया तो मैंने बस वही किया जो मुझसे कहा गया। मैंने उनसे कहा था कि वो मुझे पहले से स्क्रिप्ट का कुछ हिस्सा दे दें लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ।’