संसद भवन के पास एक संदिग्ध को हिरासत में लिया गया, IB के अधिकारी कर रहे हैं पूछताछ

    262
    Budget Session

    संसद भवन के पास से बुधवार एक संदिग्ध को हिरासत में लिया गया है. शख्स के पास एक चिट्ठी बरामद हुई है. फिलहाल इंटेलीजेंस ब्यूरो (IB) के अधिकारी उससे पूछताछ कर रहे हैं. जानकारी है कि इस संदिग्ध को विजय चौक पर हिरासत में लिया गया. ड्यूटी पर तैनात CRPF के जवानों ने इस संदिग्ध शख्स को पकड़ा था. उससे संसद मार्ग थाने में पूछताछ चल रही है.

    जानकारी है कि पकड़ा गया शख्स संसद भवन के आस पास घूम रहा था. सीआरपीएफ जवानों ने जब उसे पकड़कर पूछताछ की, तो वो अपने बारे में अलग-अलग जानकारी दे रहा था. उसके पास एक पेपर भी मिला है, जो एक कोडवर्ड में है. वहीं, उसके पास से दो पहचान पत्र मिले हैं. एक आधार कार्ड और एक ड्राइविंग लाइसेंस मिला है. दोनों में नाम अलग-अलग हैं. ड्राइविंग लाइसेंस में उसका नाम फिरदौस है, जबकि आधार कार्ड में नाम मंजूर अहमद अहंगेर है.

    संदिग्ध ने खुद को रथसून बीरवाह, बडगाम का रहने वाला बताया है. उसके पास से एक बैग भी मिला है. पूछताछ में पहले उसने बताया कि वो 2016 में घूमने के लिए दिल्ली आया था. फिर उसने बताया कि वो लॉकडाउन में आया था. दिल्ली में रहने के सवाल पर वो कभी जामिया, फिर निज़ामुद्दीन तो फिर जामा मस्जिद इलाके में रहने की बात कह रहा था.

    बता दें कि इसके पहले शुक्रवार को दिल्ली पुलिस ने एक मुठभेड़ के बाद आईएसआईएस से जुड़े एक संदिग्ध आतंकी को गिरफ्तार किया था. उसके पास से 15 किलो विस्फोटक बरामद हुआ है. पकड़ा गया आतंकी लोन वुल्फ अटैक और फिदायीन हमला करने की फिराक में था. आईईडी से जुड़े 2 प्रेशर कुकर बम बनाकर तैयार किए गए थे. दोनों बमों में कुल 15 किलो विस्फोटक था. इतना ज्यादा विस्फोटक कि उसे डिफ्यूज करने के लिए एनएसजी की टीम आई. बुद्धा जयंती पार्क में ऑटोमैटिक रोबोट मशीन के जरिए दोनों बमों को मिट्टी के ढेर में सुरक्षित ले जाया गया और फिर बमों को निष्क्रिय कर दिया गया.