उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में चुने गए 36 मुस्लिम विधायक

347
36 Muslim MLAs

चुनाव रिजल्ट आने के बाद यह साफ हो गया कि मुकाबला सिर्फ सत्तारूढ़ भाजपा और समाजवादी पार्टी के बीच था। इस बार के चुनाव में दिग्गज मुस्लिम नेताओं की अगर बात करें तो मोहम्मद आजम खान, उनके बेटे अब्दुल्ला आजम खान, जेल में बंद गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास और भतीजे मन्नू शामिल हैं। रामपुर में, जेल में बंद सपा नेता आजम खान ने 1,21,755 वोट हासिल करके सीट जीती, जबकि बीजेपी के आकाश सक्सेना 56,368 वोटों के साथ दूसरे स्थान पर रहे।

सुआर विधानसभा से अब्दुल्ला आजम की फतह
सुआर विधानसभा क्षेत्र में, आजम के बेटे अब्दुल्ला आजम को अपना दल के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले हैदर अली खान उर्फ हमजा मियां के 65,059 मतों के मुकाबले 1,26,162 मत मिले।

मऊ से अब्बास अंसारी जीते
मऊ में मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी ने एसबीएसपी के टिकट पर बीजेपी के अशोक कुमार सिंह को 38,227 वोटों से हराया।
मोहम्मदाबाद से सुहैब अंसारी विजयी
मोहम्मदाबाद (गाजीपुर) से पूर्व विधायक सिबगतुल्लाह अंसारी के बेटे और मुख्तार के भतीजे सुहैब अंसारी उर्फ मन्नू भाजपा की मौजूदा विधायक अलका राय को 18,199 मतों के अंतर से हराकर विजयी हुए।
कैराना सीट पर नाहिद हसन
कैराना सीट पर सपा के नाहिद हसन ने बीजेपी उम्मीदवार मृगांका सिंह के 1,05,148 के मुकाबले 1,31,035 वोट हासिल किए।
निजामाबाद से आलम बादी फिर से निर्वाचित
निजामाबाद (आजमगढ़) में सपा के 85 वर्षीय वयोवृद्ध आलम बादी भाजपा के मनोज को 34,187 मतों के अंतर से हराकर फिर से निर्वाचित हुए।
किठौर पर शाहिद मंजूर
मेरठ की किठौर विधानसभा सीट पर सपा के शाहिद मंजूर और भाजपा के सतवीर सिंह के बीच कड़ा मुकाबला है। मंजूर ने 2,180 मतों के मामूली अंतर से सीट जीती।
कुंदरकी पर जिया-उर-रहमान विजयी
कुंदरकी (मुरादाबाद) से सपा सांसद शफीकुर रहमान बर्क के बेटे जिया-उर-रहमान ने भाजपा के कमल कुमार को 43,162 मतों से हराया।
बसपा 88 कांग्रेस 75 मुस्लिम को दिया था टिकट
इस बार, जबकि सपा ने बहुत कम संख्या में मुस्लिम उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था। बसपा ने 88 मुसलमानों को मैदान में उतारा, जबकि कांग्रेस ने 75 मुस्लिम उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था।
एआईएमआईएम के 60 उम्मीदवार थे चुनावी मैदान में
हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी की एआईएमआईएम ने भी समुदाय के 60 से अधिक उम्मीदवारों को मैदान में उतारा है। हालांकि जिस तरह से समुदाय ने मतदान किया, ऐसा प्रतीत होता है कि ज्यादातर सपा मुसलमानों की शीर्ष पसंद बनी रही, जबकि बसपा और एआईएमआईएम को भी कुछ सीटों पर समुदाय का समर्थन मिला।
यूपी विधानसभा चुनाव में जीते मुस्लिम उम्मीदवार

  1. आजम खान रामपुर
  2. अब्दुल्ला आजम खान स्वार
  3. मुख्तार अब्बास अंसारी मऊ
  4. कमल अख्तर साहब कांठ
  5. नाहिद हसन कैराना
  6. हाजी इरफान सोलंकी सिसामऊ
  7. इकबाल मसूद संभल
  8. आशु मालिक सहारनपुर
  9. मोहम्मद मुर्तजा फूलपुर
  10. जियाउर रिजवी सिकंदरपुर
  11. गुलाम मोहम्मद सिवाल खास
  12. नवाब जान ठकुराद्वार
  13. असरफ अली खान थाना भवन
  14. अरमान खान लखनऊ
  15. आलम वादी निजामाबाद
  16. तसलीम अहमद नजीबाबाद
  17. मौहम्मद नासिर मुरादाबाद रूरल
  18. मौहम्मद युसुफ मुरादाबाद
  19. रफीक अंसारी मेरठ
  20. जियाऊर रहमान कुंदरकी
  21. सुल्तान बेग मीरगंज
  22. मोहम्मद आदिल मेरठ दक्षिण
  23. यासर शाह बहराइच
  24. महमूब अली अमरोहा
  25. उमर अली खान बेहट सहारनपुर
  26. साजिल इस्लाम भोजपुरा
  27. मोहम्मद फहीम बिलारी
  28. नसीर अहमद चमरौवा
  29. नईम उल हसन धामपुर
  30. सय्यदा खातून डुमरियागंज
  31. नफीस अहमद गोपालपुर
  32. मोहम्मद इरशाद खान जौनपुर
  33. मोहम्मद हसन कानपुर कैंट
  34. साहिद मंजूर किठौर