22 साल पहले आज ही के दिन गांगुली-द्रविड़ ने रचा था इतिहास, 318 रन की रिकॉर्ड की थी साझेदारी 

709

22 साल पहले आज ही के दिन इंग्लैंड के टौंटन में सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ स्पेशल देखने को मिला था। भारत के इन दोनों पूर्व बैट्समैन ने श्रीलंका के खिलाफ 1999 वनडे वर्ल्ड कप में 318 रन की पार्टनरशिप की थी। इसके साथ ही गांगुली ने इसी मैच में वनडे का अपना 183 रन का हाईएस्ट स्कोर भी इसी मैच में बनाया था। भारत ने यह मैच 157 रनों से जीता था।

गांगुली ने 183 और द्रविड़ ने 145 रन की पारी खेली थी
श्रीलंका ने इस मैच में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। भारती की शुरुआत अच्छी नहीं रही और ओपनर सदागोप्पन रमेश 5 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद गांगुल-द्रविड़ शो ने सभी फैन्स का दिल जीत लिया। दोनों ने 318 रन जोड़े। गांगुली ने 158 बॉल पर 17 चौके और 7 छक्के की मदद से 183 रन की पारी खेली। वहीं, द्रविड़ ने 129 बॉल पर 17 चौके और 1 छक्के की मदद से 145 रन बनाए।

भारत ने 50 ओवर में 6 विकेट पर 373 रन बनाए थे
गांगुली को विक्रमसिंघे ने चंदाना के हाथों कैच कराया। वहीं, द्रविड़ को मुरलीधरन ने रन आउट किया। हालांकि, इसके बाद सचिन तेंदुलकर, अजय जडेजा और रॉबिन सिंह कुछ खास नहीं कर सके। मोहम्मद अजहरुद्दीन 7 बॉल पर 12 रन और जवागल श्रीनाथ 0 पर नॉट आउट रहे। इसकी बदौलत टीम ने 50 ओवर में 6 विकेट पर 373 रन बनाए थे।

श्रीलंका की टीम 216 रन बनाकर ऑलआउट हुई थी
इसके जवाब में सनथ जयसूर्या, रोमेश कालुविताराना, मर्वन अटापट्टू, अर्विंद डी सिल्वा, अर्जुन रणतुंगा और महेला जयवर्धने जैसे स्टार बैट्समैन से सजी श्रीलंका टीम कुछ खास नहीं कर सकी। श्रीलंका के 7 बल्लेबाज तो दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके। अटापट्टू 29 रन, डी सिल्वा 56 रन, रणतुंगा 42 रन और रोशन महानामा 32 रन बना सके। श्रीलंका की टीम 42.3 ओवर में 216 रन पर ऑलआउट हो गई थी।

भारत ने दो बार वनडे और 1 बार टी-20 वर्ल्ड कप जीता
भारत के लिए रॉबिन सिंह 5 विकेट के साथ सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे। श्रीनाथ, देबाशीष मोहंती, और अनिल कुंबले को 1-1 विकेट मिला। भारत इस वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पहुंचने में कामयाब नहीं हो सकी थी। भारत ने अब तक 2 वनडे वर्ल्ड कप जीता है। पहला वर्ल्ड कप भारत ने 1983 में और दूसरा वर्ल्ड कप 2011 में जीता था। इसके अलावा टीम ने 2007 में टी-20 वर्ल्ड कप भी जीता था।