बजरंग-साक्षी सहित कई पहलवानों का फिर से धरना, दिल्ली पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप..

142

भारतीय कुश्ती संघ (डब्ल्यूएफआई) के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह और ओलंपियन पहलवानों का विवाद दोबारा तूल पकड़ता दिख रहा है। देश के नामी ओलंपियन पहलवान रविवार को सोनीपत से दिल्ली के जंतर-मंतर पहुंचे हैं और दोबारा से धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया है। प्रदर्शन शुरू होने के बाद डीसीडब्ल्यू की अध्यक्षा स्वाति मालीवाल ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है।

थाने में शिकायत दी लेकिन अभी तक दर्ज नहीं की गई

विरोध प्रदर्शन करने वाले पहलवानों ने बताया कि लड़कियों ने यौन उत्पीड़न के संबंध में बृजभूषण सिंह के खिलाफ पुलिस थाने में शिकायत दी लेकिन अभी तक दर्ज नहीं की गई है। POCSO का मामला होना चाहिए। हम ढाई महीने से इंतजार कर रहे हैं। पहलवान विनेश फोगाट ने कहा कि तीन महीने हो गए और हमें न्याय नहीं मिला। इसलिए हम फिर से विरोध कर रहे हैं। हम न्याय की मांग करते हैं, अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं की गई है। हम आभारी हैं कि दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) हमारा समर्थन कर रहा है। पहलवानों ने बताया कि सरकार ने उनके साथ धोखा किया है, एक महीने में कार्रवाई का भरोसा दिया गया था लेकिन अब तीन महीने बाद भी जांच रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं की गई है। हम कितना इंतजार करें।

इस संबंध में एक पहलवान ने बताया कि सरकार ने पहलवानों को जो आश्वासन दिया था वह झूठा निकला। सरकार ने पहलवानों के साथ धोखा किया है। धरना खत्म करवाते समय एक महीने में जांच कर आरोपितों पर कार्रवाई की बात कही गई थी। हम कई बार सरकार को चेतावनी दे चुके हैं, लेकिन सरकार ने जांच रिपोर्ट तक सार्वजनिक नहीं की, कार्रवाई करना तो दूर की बात रही। शाम चार बजे पहलवान प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आगामी रणनीति बताने की बात कह रहे हैं।