विकास दीपोत्सव का हुआ शुभारम्भ, योगी बोले – अयोध्या जाने से डरती थीं सरकारें, मंत्री नहीं लेते थे राम-कृष्ण का नाम

451

पहले की सरकारें अयोध्या जाने से डरती थीं। प्रभू श्रीराम व कृष्ण का नाम लेने से बचती थीं। पर, अब ऐसा नहीं है। अयोध्या में दीपोत्सव हो रहे हैं। वृंदावन में रंगोत्सव मनाए जा रहे हैं। वाराणसी में देवदीपावली तथा प्रयागराज में भव्य कुम्भ हो रहे हैं। पहले बहन-बेटियां स्कूल जाने से डरती थीं। अब गुंडों की हिम्मत नहीं है। हालात पूरी तरह बदल गए हैं। यह कहना है प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का। वह गुरुवार को झूलेलाल वाटिका में नगर निगम व जिला प्रशासन की ओर से शुरू हुए विकास दीपोत्सव के शुभारम्भ के अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। आयोजन तीन नवम्बर तक चलेगा।

इससे पूर्व उन्होंने आदिगंगा मां गोमती की आरती की तथा लेजर शो में रामायण की कथा का वर्णन देखा। इस मौके पर स्ट्रीट वेंडरों को सम्मानित भी किया गया। 50 स्ट्रीट वेंडरों को कार्ट तथा हजार को कैनोपी दी गई। कोरोना वारियरों को भी अलंकृत किया गया। उन्होंने बताया कि साढ़े चार साल में प्रदेश में 45 लाख लोगों को आवास दिया गया। 2.61 करोड़ को शौचालय मिला। 1.41 करोड़ को मुफ्त बिजली कनेक्शन दिया गाय। 1.56 करोड़ को उज्ज्वला के तहत गैस कनेक्शन, छह करोड़ को आयुष्मान योजना का लाभ दिया गया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आठ लाख स्ट्रीट वेंडरों को दस हजार रुपये का शून्य ब्याज पर दिया गया। उन्होंने विकास दीपोत्सव मेले का भ्रमण भी किया। आत्मनिर्भर भारत के लिए वोकल फॉर लोकल जरूरी है। वहीं कैबिनेट मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भी विपक्ष पर निशाना साधा। कहाकि उत्तर प्रदेश आगे बढ़ेगा तो देश आगे बढ़ेगा। उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहाकि विपक्ष की सोच संकीर्ण थी, जिसे योगी सरकार ने बदला है। पहले त्यौहारों पर कर्फ्यू लगता था। जुलूस निकलने पर लाठीचार्ज होता था। दंगे होते थे। लेकिन अब नया माहौल है। मंत्री मंदिर जाने से कतराते थे, लेकिन कुम्भ में पूरे मंत्रिमंडल ने एक साथ डुबकी लगाई। उन्होंने बताया कि झूलेलाल पार्क की जगह कूड़े के ढेर लगते थे। उस वक्त मैं मेयर हुआ करता था। अब इसकी रंगत बदल गई है। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं के बारे में बताया।

बेहतर हुई स्वच्छता रैंकिंग
नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने बताया कि प्रदेश की दो सौ नगर पालिकाओं, 17 नगर निगमों द्वारा पूरे सूबे में विकास दीपोत्सव मनाया जा रहा है। दीपोत्सव में स्ट्रीट वेंडरों को जगह दी गई है, जो हफ्तेभर तक चलेगा। उन्होंने कहाकि स्वच्छता रैंकिंग बेहतर हो रही है। पहले लखनऊ स्वच्छता रैंकिंग में 266 नंबर पर आता था। वहीं अब उसकी रैंकिंग 12 तक पहुंच गई है। जो जल्द ही और बेहतर भी होगी। कार्यक्रम में मंत्री ब्रजेश पाठक, सांसद कौशल किशोर, मेयर संयुक्ता भाटिया, नगर आयुक्त, पुलिस कमिश्नर मौजूद रहे।

कुर्सी नहीं मिली तो मंच पर बैठे गए मंत्री
लेजर शो देखने के लिए प्रशासन द्वारा मंच बनाए गए थे, जिसमें मुख्यमंत्री सहित अन्य मंत्रियों के लिए कुर्सियां लगाई गईं। पर, मंत्री ब्रजेश पाठक जब मंच पर पहुंचे तो कुर्सियां भर गई थीं। जब उन्हें बैठने के लिए खाली कुर्सी नहीं दिखी तो वह मंच पर ही विराजमान हो गए। जिसके बाद मंच पर मौजूद लोगों ने हंसते-मुस्कुराते हुए उन्हें कुर्सी उपलब्ध कराई।