यूपी में एक और हफ्ते बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू, 31 मई सुबह 7 बजे तक लागू रहेगी पाबंदी

536
chennai Lockdown

यूपी में कोरोना कर्फ्यू एक सप्ताह और, यानी 31 मई को सुबह सात बजे तक बढ़ा दिया गया है. इसके दौरान सारे प्रतिबंध पूर्ववत लागू रहेंगे. उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना कर्फ्यू (लॉकडाउन) को 31 मई की सुबह 7 बजे तक के लिए बढ़ा दिया है. इससे पहले 24 मई तक के लिए कोरोना कर्फ्यू लगाया गया था. यूपी सरकार ने कोरोना के मामलों में कमी के बावजूद सतर्कता बरतते हुए लॉकडाउन को बढ़ाया है. यूपी में कोरोना का ग्राफ धीरे-धीरे नीचे आ रहा है. यूपी के स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक संक्रमण के मामलों में खासी कमी आई है. 24 अप्रैल को राज्‍य में सर्वाधिक 38,055 मामले आए थे, आज सिर्फ 6,046 मामले आए जो 84.02 प्रतिशत कम हैं.

यूपी में अगले एक हफ्ते तक जारी रहने वाले लॉकडाउन के दौरान वही पाबंदियां जारी रहेंगी जो कि अब तक लागू थीं. कोरोना की दूसरी लहर पर काबू पाने के लिए कई राज्यों में लॉकडाउन या सख्त पाबंदियां लागू हैं. उत्तर प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू खासतौर पर बाजारों पर लागू है. आवश्यक सेवाओं और औद्योगिक गतिविधियों पर कोई रोक नहीं है. हालांकि, परिवहन क्षेत्र पर सख्ती दिखाई गई है. रोडवेज बसों के दूसरे राज्यों जाने पर रोक है. साप्ताहिक बाजार बंद रखे गए हैं. बाजारों में दुकानें भी बंद रहेंगी. इस दौरान लोगों के बेवजह बाहर निकलने पर रोक है.

उड़ान सेवाओं पर भी कुछ पाबंदी लगी हुई है. इस महीने की शुरूआत में सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने विमान सेवा से प्रदेश में आने वाले लोगों के लिए COVID-19 की नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य करने का आदेश दिया था और यह भी सुनिश्चित करने को कहा था कि विमान सेवा के माध्यम से प्रदेश से जाने वाले लोग भी नेगेटिव रिपोर्ट आने पर ही जाएं. उन्होंने कहा था कि रेल से आने वाले यात्रियों की पूरी सूची प्राप्त की जाए. साथ ही, उनकी स्क्रीनिंग भी की जाए.

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण से शनिवार को 226 और मरीजों की मौत हो गई जबकि संक्रमण के 6,046 नए मामले सामने आए हैं. स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के अपर मुख्‍य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने शनिवार को पत्रकारों को बताया कि संक्रमण के मामलों में खासी कमी आई है. उन्होंने बताया कि 24 अप्रैल को राज्‍य में सर्वाधिक 38,055 मामले आए थे और उसकी तुलना में आज सिर्फ 6,046 मामले आए जो 84.02 प्रतिशत कम हैं.

प्रसाद ने बताया कि 6,046 नए संक्रमितों के सापेक्ष पिछले 24 घंटे में 17,540 कोरोना संक्रमित स्वस्थ होकर घर गए हैं और अब तक प्रदेश में 15,51,716 मरीज संक्रमण मुक्त हो चुके हैं. उन्होंने दावा किया कि कोरोना संक्रमण से स्वस्थ होने वाले मरीजों का प्रतिशत अब 93.02 प्रतिशत हो गया है.

वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि पिछले 22 दिनों में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में कमी आई है. इस समय प्रदेश में 94,482 मरीज उपचाराधीन हैं जो 30 अप्रैल के सक्रिय मामलों 3,10,783 की तुलना में 69.06 प्रतिशत कम हैं.