भारत में कोरोना से स्थिति भयावह, कमला हैरिस बोलीं- ‘अमेरिका हर संभव मदद करने को तैयार’

446

भारत में कोरोना की दूसरी लहर के प्रसार के बाद से ही दुनियाभर के देशों से मदद मिल रही है। इस बीच अमेरिका की उप राष्ट्रपति कमला हैरिस ने भी भारत की हर संभव मदद की बात कही है। कमला ने अपने संबोधन में राष्ट्रपति जो बाइडन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच फोन पर हुई बातचीत का उल्लेख भी किया।

उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने कहा कि भारत में कोरोना की दूसरी लहर से बने हालात और मौत के बढ़ते मामले दिल दहला देने वाली घटनाओं से कम नहीं हैं। आपमें से जिन्होंने अपने प्रियजनों को खोया है, उनके प्रति मैं अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त करती हूं। उन्होंने कहा कि जैसे ही गंभीर स्थिति के बारे में जानकारी मिली, हमारे प्रशासन ने उचित कदम उठाने शुरू कर दिए थे।

हैरिस ने कहा कि बीती 26 अप्रैल को राष्ट्रपति जो बाइडन ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ फोन पर बात की थी। इसके बाद 30 अप्रैल को अमेरिका की ओर से राहत सामग्री पहुंचाई जा चुकी थी। उन्होंने कहा कि हमने पहले से ही रिफिल करने योग्य ऑक्सीजन सिलिंडर और ऑक्सीजन सांद्रक भेजे हैं और भी भेजे जाएंगे। हमने एन95 मास्क भेजे हैं और भी अधिक भेजने के लिए तैयारी जारी है। हमने कोविड रोगियों के इलाज के लिए रेमेडिसविर की खुराक भी दी है।

हैरिस ने कहा कि हमने कोविड-19 टीकों पर पेटेंट को निलंबित करने के लिए हमारे पूर्ण समर्थन दिया है। हमने भारत और अन्य देशों को अपने लोगों का और अधिक तेजी से टीकाकरण करने में मदद करने की घोषणा की है। भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका में दुनिया में सबसे अधिक कोविड-19 मामले हैं।

कमला ने कहा कि महामारी की शुरुआत में जब हमारे यहां अस्पतालों में बेड बढ़ाए जाने थे, तब भारत ने सहायता भेजी थी। आज, हम भारत को उसकी जरूरत के समय में मदद करने के लिए दृढ़ हैं। हम इसे भारत के लिए एक दोस्त के रूप में, एशियाई क्वाड के सदस्यों के रूप में और वैश्विक समुदाय के हिस्से के रूप में कर रहे हैं।