यूपी में डेंगू-वायरल का कहर जारी: आगरा मंडल में बुखार से 9 बच्चों समेत 11 की मौत, फिरोजाबाद में भी पांच ने तोड़ा दम

232

आगरा मंडल में डेंगू और वायरल की समस्या कम होने का नाम नहीं ले रही है। शुक्रवार को ब्रज में नौ बच्चों समेत 11 लोगों की डेंगू व वायरल से मौत हो गई। अकेले फिरोजाबाद जिले में पांच बच्चों ने दम तोड़ दिया। इसके साथ ही कासगंज और मैनपुरी में दो-दो, एटा और मथुरा में एक पीड़ित की मौत हो गई। फिरोजाबाद में बघेल कॉलोनी निवासी अभय (7) पुत्र विपिन कुमार करबला निवासी शगुन (13) पुत्री पप्पू और मालवीय नगर गली नंबर छह निवासी कृष्णा (5) वर्ष पुत्र मनसुख की मौत हुई है। कश्मीरी गेट निवासी अनमता (7) पुत्री परवेश, भरत नगर झलकारी नगर निवासी इशिका बघेल (12) पुत्री राजकुमार बघेल ने भी दम तोड़ दिया। एटा में मिलावली निवासी वृद्ध मुंशीलाल (65) की बुखार से मौत हो गई। मैनपुरी के गांव जैनगढ़ी में रवी की 15 माह की बेटी अभि व अवनीश की तीन वर्षीय बेटी ताशी की भी बुखार से मौत हो चुकी है। कासगंज में शहर के मोहल्ला बनखंडी निवासी मुकेश पाठकर (40) और सानिया (12) पुत्री शेर मोहम्मद निवासी गनेशपुर की बुखार से मौत हो गई।मथुरा में चिराग दो माह पुत्र रवि निवासी सामौली की शुक्रवार को मौत हो गई। परिजनों के मुताबिक उसे चार दिन से बुखार था।

फिरोजाबाद: नहीं थम रहा मासूमों की मौत का सिलसिला, डेंगू-बुखार से पांच और बच्चों ने तोड़ा दम

गंजडुंडवारा का गनेशपुर तो बुखार का हॉटस्पॉट बन चुका है। इस गांव में एक और लड़की की मौत बुखार से हो गई। इसके अलावा मोहल्ला वनखंडी का एक युवक मौत के आगोश में समा गया। मोहल्ला बनखंडी निवासी मुकेश पाठकर (40) पुत्र वेदप्रकाश 14 सितंबर को अपने पिता के साथ आगरा दवा लेने के लिए गया। उसे जब बुखार महसूस हुआ तो उसने मेडिकल स्टोर से दवा लेकर खाली। इसके बाद वह अपने पिता के साथ घर लौट आया। घर आने के बाद उसकी हालत और बिगड़ गई। उसने निजी चिकित्सक को दिखाया, लेकिन बुखार से कोई राहत नहीं मिली और उसकी मौत हो गई।  गनेशपुर निवासी सानिया (12) शेर मोहम्मद को पांच दिन पहले बुखार आ गया। बुखार के बाद परिजनों ने उसे निजी चिकित्सक को दिखाया, लेकिन कोई राहत नहीं मिली। उसकी हालत शुक्रवार को और बिगड़ गई। उसके मुंह से खून आ गया। इसके बाद उसकी मौत हो गई। 

एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती 13 मरीजों में शुक्रवार को डेंगू की पुष्टि हुई है। इनमें से आगरा के पांच मरीज हैं। अब आगरा में डेंगू के कुल मरीज 57 हो गए हैं। अभी मेडिसिन और बाल रोग विभाग के डेंगू वार्ड में 19 मरीजों का इलाज चल रहा है।

प्राचार्य डॉ. प्रशांत गुप्ता ने बताया कि शुक्रवार को डेंगू वार्ड में भर्ती बुखार-खांसी के 13 मरीजों की एलाइजा जांच कराने पर डेंगू मिला है। इनमें से आगरा के पांच, फिरोजाबाद के सात और मथुरा का एक मरीज है। 

अभी मेडिसिन विभाग के डेंगू वार्ड में 13 और बाल रोग विभाग के डेंगू वार्ड में छह बच्चे भर्ती हैं। इनकी हालत ठीक है, पांच मरीज ठीक होकर डिस्चार्ज कर दिए हैं। संदिग्ध तीन नए मरीज भर्ती किए हैं। इनको उपचार दिया है और एलाइजा जांच कराने के लिए नमूना वायरोलॉजी लैब भेजे हैं।