ईराक के ग्रीन जोन पर फिर बड़ा हमला, दागे गए दो रैकेट, अमेरिकी दूतावास था निशाना

247
rocket attack on US military camp
rocket attack on US military camp

इराक की राजधानी बगदाद के सुरक्षित ग्रीन जोन में दो कत्यूषा रॉकेट दागे गए. इराक की सरकारी न्यूज एजेंसी ने सुरक्षा बलों के हवाले से रविवार सुबह इसकी जानकारी दी. इराक के ग्रीन जोन को निशाना बनाया जाना इसलिए भी अहम है क्योंकि यहां अमेरिकी दूतावास सहित तमाम सरकारी इमारतें स्थित हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि एक रॉकेट को सी-रैम डिफेंस सिस्टम की मदद से नष्ट कर दिया गया. जबकि दूसरा इलाके में गिरा जिसमें दो कारें क्षतिग्रस्त हो गई.

फिलहाल हताहतों की कोई जानकारी नहीं है. एजेंसी ने बताया कि सुरक्षा बलों ने रॉकेट के प्रक्षेपण स्थल का पता लगाने के लिए जांच शुरू कर दी है. ग्रीन जोन अमेरिकी दूतावास और सरकारी भवनों सहित विदेशी दूतावासों की मेजबानी करता है. यह लगातार उन समूहों की ओर से दागे जाने वाले रॉकेटों का टारगेट रहा है जो अमेरिकी और इराकी अधिकारियों का कहना है कि ‘ईरान-समर्थित’ हैं.

ससे पहले जुलाई में अमेरिकी दूतावास पर तीन रॉकेट दागे गए थे. सेना ने इस हमले की जानकारी दी थी.इराक के अलावा सीरिया में भी अमेरिकी ठिकानों को लगातार टारगेट किया जा रहा है. ये हमले आतंकी और मिलिशिया ठिकानों पर अमेरिकी एयर स्ट्राइक के जवाब के तौर पर किए जाते हैं. मार्च में पश्चिमी इराक में अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन बलों की मौजूदगी वाले एक सैन्य हवाईअड्डे को निशाना बनाकर कम से कम 10 रॉकेट दागे गए थे. गठबंधन और इराकी बलों ने इसकी जानकारी दी थी.

गठबंधन के प्रवक्ता कर्नल वायने मारोट्टो ने बताया था कि अनबार प्रांत के ऐन अल-असद सैन्य हवाईअड्डे पर सुबह सात बजकर 20 मिनट पर रॉकेट दागे गए. इराकी सेना ने एक बयान में कहा था कि हमले में कोई बड़ा नुकसान नहीं हुआ है और सुरक्षा बलों ने मिसाइलों के लिए इस्तेमाल किए गए लॉन्च पैड का पता लगा लिया है. इराकी सेना के एक अधिकारी ने अपनी पहचान गोपनीय रखने की शर्त पर बताया था कि ये रॉकेट अनबार के अल बगदादी इलाके में पाए गए हैं.