Tokyo Olympics 2020: नीरज चोपड़ा ने जेवेलिन थ्रो के पहले प्रयास में किया कमाल, फाइनल में पहुंच मेडल की जगाई आस

    796

    टोक्यो ओलंपिक में भारत के स्टार जेवेलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा ने शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने भाला फेंक स्पर्धा में पहले ही प्रयास में कमाल का थ्रो करते हुए 86.65 मीटर दूर भाला फेंका। इसके साथ वह फाइनल के लिए क्वालीफाई कर गए। फाइनल में सीधे प्रवेश करने के लिए 83.50 मीटर का थ्रो होना जरूरी है। नीरज अब 7 अगस्त को फाइनल मुकाबले में अपना दमखम दिखाएंगे। 

    ओलंपिक के इतिहास में भारत की तरफ से अब तक कोई भी एथलीट ट्रैक एंड फील्ड स्पर्धा में पदक नहीं जीत पाया। जेवेलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा इस सूखे को खत्म कर सकते हैं। कुल मिलाकर जिस तरह से उन्होंने आज अपने पहले प्रयास में प्रदर्शन किया उसे देख उनसे पदक की उम्मीद है। 

    टोक्यो ओलंपिक में पदार्पण करने वाले नीरज चोपड़ा ने 86.65 मीटर दूर भाला फेंककर फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया। नीरज ने यह करिश्मा अपने पहले ही प्रयास में कर दिखाया। उनके इस शानदार प्रदर्शन के देखकर ऐसा कहा जा रहा है कि वह भारत को पदक अवश्य दिलाएंगे। 

    नीरज चोपड़ा टोक्यो ओलंपिक के लिए बेहतर तैयारी नहीं कर सके। उनकी तैयारियों में कोविड-19 महामारी और चोट आड़े आई। इसके बावजूद उन्होंने टोक्यो ओलंपिक में अपने प्रशंसकों को निराश नहीं किया और पहले ही थ्रो में फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया।