आज बसंत पंचमी के मौके पर कड़ी सुरक्षा के बीच हरिद्वार में भक्तिमय हुआ माहौल, लोगों ने लगाई आस्था की डुबकी

193

आज वसंत पंचमी के पावन पर्व पर हरकी पैड़ी और गंगा के घाटों पर श्रद्धालु आस्था की डुबकी लगा रहे हैं। तड़के से ही पावन स्नान के लिए भक्त हरिद्वार के घाटों पर पहुंच रहे हैं।

श्रद्धालु भगवान सूर्य को अर्घ्य देने के बाद दान पुण्य कर रहे हैं। स्नान के लिए हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के गढ़वाल और कुमाऊं मंडल से बड़ी तादाद में श्रद्धालु हरिद्वार पहुंच रहे हैं। मेला क्षेत्र में कोरोना जांच और स्वास्थ्य सेवाओं के लिए स्वास्थ्य विभाग ने 30-30 टीमें गठित की हैं।

हरकी पैड़ी पर गंगा स्नान के बाद कुशावर्त घाट पर जनेऊ संस्कार संपन्न कराया जा रहा है। हरकी पैड़ी और दूसरे घाटों पर पुलिस की कड़ी चौकसी है। वसंत पंचमी के दिन शुभ मुहूर्त माना जाता है और आज के दिन शुभ कार्य और विवाह संस्कार किया जाता है।

वसंत पंचमी स्नान पर्व पर सुरक्षा व्यवस्था को चाक चौबंद करने के इरादे से आईजी कुम्भ मेला संजय गुंज्याल के निर्देश पर आज सुबह 4 बजे तक बम निरोधक दस्ते के द्वारा घाटों, बाजारों, मंदिरों, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन, पार्किंग, ऋषिकेश, आश्रमों आदि पर ऑपरेशन क्लीन स्वीप चलाया गया।

ऑपरेशन के दौरान बम निरोधक दस्ते की 07 टीमों के द्वारा गहन चेकिंग की कार्रवाई की गई। उक्त टीमों का सुपरविजन कमलेश पंत पुलिस उपाधीक्षक बम निरोधक दस्ता कुम्भ मेला 2021 के द्वारा किया गया।

प्रत्येक टीम में लगभग 10 अधिकारी/कर्मचारी सम्मिलित रहे। इसके अलावा 10 स्निफर डॉग द्वारा भी ऑपरेशन क्लीन स्वीप में कार्य किया गया और यह सुनिश्चित किया गया कि मेला क्षेत्र में किसी भी प्रकार की कोई आपत्तिजनक या विध्वंसक वस्तु न रहने पाए।

वहींं भारतीय प्राच्य विद्या सोसायटी के संस्थापक डॉ. प्रतीक मिश्रपुरी के अनुसार, मंगलवार को स्नान का शुभ मुहूर्त सुबह 5.30 से 7.25 बजे तक मकर लग्न में है।

इसके बाद सुबह 9.26 से दस बजे तक मीन लग्न है। दोपहर 12.15 से 2.15 बजे तक वृषभ लग्न में भी स्नान का शुभ मुहूर्त है। इस दौरान श्रद्धालु स्नान और सूर्य देव की आराधना के बाद दान-पुण्य कर सकते हैं।